ALL देश विदेश सम्पादकीय राजनीति अपराध खेल मनोरंजन चुनाव आध्यात्म सामान्य
वाल्मीकिनगर(प.च.) :: इंडो नेपाल बॉर्डर के गंडक बैैराज के भारतीय सीमा पर दीपावली के अवसर पर एक दीया शहीदों के नाम कार्यक्रम का किया गया आयोजन
October 28, 2019 • aaditya prakash srivastava

विजय कुमार शर्मा, कुशीनगर केसरी, बगहा प.च. बिहार। इंडो नेपाल बॉर्डर के गंडक बैैराज के भारतीय सीमा पर दीपावली के अवसर पर एक दीया शहीदों के नाम कार्यक्रम का किया गया आयोजन किया गया। इस दौरानकार्यक्रम का शुभारंभ चर्चित कलाकार डी. आनंद ने एक दीया शहीदों के नाम जलाते हैं, हंसकर जो कुर्बान हुए हम उनकी महिमा गाते हैं,गीत गाकर किया। तत्पश्चात सशस्त्र सीमा बल 21 वीं वाहिनी गंडक बराज के इंस्पेक्टर सुनीत कुमार के नेतृत्व में जवानों ने शहीदों के नाम से दीए जलाकर देश भक्ति भावनाओं को व्यक्त किया। सुनीत कुमार ने अपने संबोधन में कहा कि हमारी दिवाली देश के शहीद जवानों को समर्पित है ।धारा 370 हटने के बाद उत्साह पूर्ण माहौल में संपूर्ण देश में इस बार विशेष रुप से इको फ्रेंडली दिवाली मनाई जा रही है।हमारी जिंदगी यदि देश के काम आ जाए तो यह मेरा परम सौभाग्य होगा। समाजसेवी एवं गायक संगीत आनंद ने कहा कि भारत नेपाल सीमा पर हम सभी दीए जलाकर उन शहीदों को याद कर रहे हैं जो हंसते-हंसते देश के लिए अपने प्राणों को न्योछावर कर गए । सरफरोशी की तमन्ना अब हमारे दिल में है, एवं हम हैं सशस्त्र सीमा बल ,पावन जैसे गंगाजल आदि देश भक्ति गीतों द्वारा राष्ट्रभक्ति की अलख जगाई गई। सीमावर्ती नेपाल के आर्म्ड पुलिस फोर्स के इंस्पेक्टर टी. बी.ठकुरी ने स्पष्ट कहा कि सीमा पर शांति सुरक्षा के लिए हम सभी वचनबद्ध हैं। लेह लद्दाख निवासी एसएसबी के ए एस आई तशी वांगचूक ने कहा कि इस बार की दिवाली ऐतिहासिक दिवाली है। श्री डी. आनन्द ने कहा कि कमांडेंट राजेंद्र भारद्वाज की जितनी भी सराहना की जाए कम है। माननीय प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी जी ने धारा 370 हटा कर लेह लद्दाख एवं जम्मू कश्मीर को भी खुशहाली और समृद्धि का विशेष तोहफा दिया है। एएसआई रोशन लाल पांडे ने भारत माता की जय, जय हिंद और वंदे मातरम की जोरदार नारों से इस कार्यक्रम को यादगार बना दिया। कांस्टेबल जीडी शकील अहमद अंसारी ने कहा कि आतंकवादियों की कोई जाति नहीं होती । मुख्य आरक्षी डी. रमेश एवं धनंजय राय ने कहा कि सेवा सुरक्षा बंधुत्व हमारा नारा है। भारत देश हमें प्राणों से भी प्यारा है। आन, बान, शान और मेरी पहचान तिरंगा है। इस मौके पर स्वरांजलि सेवा संस्थान के कलाकार, समाजसेवी एवम् नगर वासियों ने भी शहीदों के नाम से दीए जलाकर दीपावली की शुभकामनाएं देते रहे। संचालक श्री डी. आनंद ने हम होंगे कामयाब एक दिन गीत के माध्यम से कार्यक्रम को विराम दिया। सशस्त्र सीमा बल 21 वी वाहिनी के इंस्पेक्टर सुनीत कुमार, एएसआई रोशन लाल पांडे, मुख्य आरक्षी डी .रमेश ,धनंजय राय, आरक्षी कलपतरु बेहरा, दिवाकर, अनुज कुमार, अखिलेश कुमार, कांस्टेबल जीडी मनीष कुमार शर्मा, शकील अहमद अंसारी, ए एसआई श्याम कुमार यादव ,कलाकार शिव चंद्र शर्मा, गायक एवं समाजसेवी संगीत आनंद, दूरभाषकर्मी कामेश्वर श्रीवास्तव, अरुण पटेल, मनोज साह,अखिलेश साह, भूषण कुमार आदि मौजूद रहे।