ALL देश विदेश सम्पादकीय राजनीति अपराध खेल मनोरंजन चुनाव आध्यात्म सामान्य
सोनभद्र :: माताओं द्वारा गणेश चौथ व्रत को करने पर पुत्र की आयु, बल, विद्या, बुद्धि में होती है वृद्धि
January 13, 2020 • aaditya prakash srivastava • आध्यात्म

अनूप श्रीवास्तव/श्रवण कुमार, सोनभद्र। आज सोमवार को महिलाओं द्वारा संकष्टी श्री गणेश चतुर्थी व्रत (गणेश चौथ) का व्रत पुत्रों के लिए माताओं द्वारा किया जाता है। ऐसी मान्यता है कि गणेश चौथ व्रत को करने पर पुत्र की आयु, बल, विद्या, बुद्धि इत्यादि में वृद्धि होती है और पुत्र सुखी व संपन्न रहते हैं।बताते चलें कि गणेश चतुर्थी का व्रत भारतीय स्त्रियां प्रातः काल से निर्जल रहकर रात चंद्रमा के उदय होने तक रहती हैं। चंद्रमा को देख कर के वह अपने व्रत को तोड़ती हैं फिर जल ग्रहण करती हैं। गणेश चौथ व्रत में गौर पार्वती और गणेश जी का पूजा की जाती है। पूजा समाप्ति के पश्चात स्त्रियां मंगल गीत गाती हैं बड़े-बुजुर्गों का आशीर्वाद लेती हैं। इस व्रत का बखान भगवान श्री कृष्ण जी ने द्रौपदी को बताया और महाभारत महाकाव्य में भी गणेश चौथ व्रत का उल्लेख मिलता है।