ALL देश विदेश सम्पादकीय राजनीति अपराध खेल मनोरंजन चुनाव आध्यात्म सामान्य
पटना :: राज्य की सबसे बड़ी फल मंडी में घूसखोरी से फैली सनसनी, फर्जी दारोगा से पुलिस महकमे में मचा हड़कंप
November 15, 2019 • aaditya prakash srivastava • अपराध
डेस्क, कुशीनगर केसरी, पटना, बिहार। आए दिन अपराधियों की कारस्तानियों से हैरान पटना पुलिस अब अपने नाम पर हो रही रंगदारी-वसूली की घटना से परेशान हो गई है।
जी हां, हाल ही में गांधी सेतु पर नो-इंट्री में ट्रकों के प्रवेश को लेकर एक साथ 45 पुलिसकर्मियों को सस्पेंड करने का मामला अभी ठंडा भी नहीं पड़ा था कि बहादुरपुर थाने की कारस्तानी ने पुलिस महकमे में हड़कंप मचा दी है। खुद को बहादुरपुर थाने का दारोगा बताने वाले एक शख्स ने गुरुवार को बाजार समिति स्थित फल मंडी के कारोबारी से ट्रकों की नो-इंट्री के नाम पर पैसे की मांग की। कारोबारी ने जब पैसे देने से इनकार किया, तो फर्जी दारोगा ने दबाव बनाने की कोशिश की बाद में कारोबारी ने फर्जी दारोगा से बातचीत का ऑडियो पुलिस के आला अफसरों को भेजकर इस मुसीबत से छुटकारा दिलाने की मांग की। पुलिस ने मामले की जांच कर कार्रवाई का भरोसा दिलाया है।

पटना में स्थित बाजार समिति की फल मंडी, बिहार की सबसे बड़ी फल मंडी है. यहां के व्यवसायियों ने बताया कि मंडी में विभिन्न जिलों से रोजाना कई ट्रक पहुंचते हैं। गुरुवार की शाम बाजार समिति व्यवसायिक संघ के महासचिव और फल कारोबारी वरुण कुमार से इस फर्जी दारोगा ने पैसे की मांग की। वरुण कुमार ने बताया कि खुद को बहादुरपुर थाने का एसआई बताते हुए आरोपी शख्स ने बाजार में ट्रक घुसने देने के नाम पर पैसे मांगे. जब वरुण ने इससे इनकार किया, तो आरोपी दारोगा और उसके साथ मौजूद किसी अन्य शख्स ने दबाव देते हुए कहा कि पैसे तो देने ही पड़ेंगे. वरुण कुमार ने बताया कि इसके बाद उन्होंने आरोपी का फोन काट दिया और पुलिस के पास शिकायत की.