ALL देश विदेश सम्पादकीय राजनीति अपराध खेल मनोरंजन चुनाव आध्यात्म सामान्य
पटना :: जनता दरबार मे दो दिव्यांगों को मिला ट्राईसाईकल, वृद्धों तथा दिव्यांगों को मिला पेंशन
January 29, 2020 • aaditya prakash srivastava • सामान्य

पटना :: उपायुक्त के जनता दरबार मे आये 63 आवेदन। जिसमें कई समस्याओं का हुआ ऑन द स्पॉट समाधान। उपायुक्त सह जिला दंडाधिकारी डॉ शांतनु कुमार अग्रहरि ने आज दिनांक 28 जनवरी 2020 को अपने कार्यालय वेश्म में जनता दरबार लगाया। जनता दरबार मे आज कुल 63 आवेदन आए। इन सभी आवेंदनकर्ताओं के आवेदन को उपायुक्त- सह- जिला दंडाधिकारी डॉ शांतनु कुमार अग्रहरी ने सुना तथा उनका निदान किया। मंगलवार को हुए जनता दरबार में लोग मुख्य रूप से पेंशन, आवास, स्वास्थ्य तथा जमीन सीमांकन संबंधित समस्याओं को लेकर आए थे। उपायुक्त ने त्वरित कार्रवाई करते हुए लोगों के समस्याओं के समाधान के लिए संबंधित पदाधिकारी को समस्याओं का निष्पादन करने का निर्देश दिया है।

आज के जनता दरबार में आए हरिहरगंज प्रखंड के दलपतपुर ग्राम से मुकलेश कुमार यादव तथा प्रदीप कुमार यादव दिव्यांग थे। उनके स्तिथि को देखते हुए उपायुक्त-सह-जिला दंडाधिकारी डॉ शांतनु कुमार अग्रहरि ने त्वरित कार्रवाई करते हुए जिला समाज कल्याण पदाधिकारी आफताब आलम को दोनों दिव्यांगों के लिए ट्राईसाइकिल देने का निर्देश दिया। उपायुक्त के निर्देश पर जिला समाज कल्याण पदाधिकारी ने दोनों दिव्यांगों को ट्राईसाइकिल से लाभान्वित किया।

ट्राईसाइकिल पाकर दोनों दिव्यांगों के चेहरे खुशी से खिल उठे। उन्होंने उपायुक्त का आभार प्रकट करते हुए कहा कि जनता दरबार में जिस उम्मीद से हम आए थे वह पूरा हो गया। अब साइकिल मिल जाने से हमें रोजमर्रा के काम करने में आसानी होगी। वही जनता दरबार मे सिंगरा खुर्द से आयीं सरोज देवी, दुलारी देवी, शामा देवी, झालमती देवी को वृद्धा पेंशन ना मिलने की समस्या थी। उन्होंने उपायुक्त के समक्ष अपनी समस्या को रखा। इसके अलावा सिंगरा खुर्द से ही आये भीम सिंह, बाबूलाल सिंह तथा दिनेश राम को एवम सदर प्रखंड के बेलवाटिक मोहल्ले से आए गिरजा शंकर मिश्रा को भी वृद्धापेंशन न मिलने की समस्या थी। उपायुक्त ने त्वरित कार्रवाई करते हुए सहायक निदेशक सामाजिक सुरक्षा शत्रुंजय कुमार को अपने कार्यालय वेश्म में बुलाकर इनके समस्याओं का निपटारा करने का निर्देश दिया। सहायक निदेशक, सामाजिक सुरक्षा शत्रुंजय कुमार ने फॉरेन इन सभी लोगों से आवश्यक दस्तावेज लेकर पेंशन की समस्या को दूर किया। वहीं दिव्यांग सुशीला सिंह जो चलने में असर्मथ थीं, उपायुक्त के समक्ष पहुंची। उन्होंने बताया कि उन्हें स्वामी विवेकानंद निशक्त पेंशन योजना का लाभ तो मिल रहा था परंतु बीते कुछ महीनों से उनका पेंशन रुक गया था। उपायुक्त ने सहायक निदेशक, सामाजिक सुरक्षा शत्रुंजय कुमार को ऑन द स्पॉट उनके समस्या का समाधान करने का निर्देश दिया।

सहायक निदेशक सामाजिक सुरक्षा शत्रुंजय कुमार ने बताया कि ग्रामीण क्षेत्र के लिए प्रखंड विकास पदाधिकारी तथा शहरी क्षेत्र के लिए अंचलाधिकारी को पेंशन स्वीकृति अधिकारी बनाया गया है। उन्होंने बताया कि ग्रामीणों को इतनी दूर आने की आवश्यकता नहीं है उनके पेंशन संबंधित समस्याओं का निपटारा उनके निकटतम प्रखंड कार्यालय तथा अंचल कार्यालय में किया जाता है।

पलामू के समाहरणालय में आज जनता दरबार लगाया गया। इसमें समस्याओं के समाधान के लिए लोगों की भीड़ लगी रही। उपायुक्त के जनता दरबार मे पाटन, विश्रामपुर, सिंगरा, लेस्लीगंज, सुदना, हैदरनगर से आये विभिन्न आवेंदनकर्ताओं ने अपना आवेदन दिया। नौडीहा बाजार प्रखंड के एक जमीन संबंधित मामले को लेकर उपायुक्त ने प्रखंड विकास पदाधिकारी नौडीहा बाजार को 1 सप्ताह के अंदर निपटाने का निर्देश दिया। वही पाटन से आए एक और जमीन संबंधित समस्या को लेकर आए रितेश तिवारी ने बताया कि उन्हें उनके जमीन मैं कुछ लोगों के द्वारा घर नहीं बनाने दिया जा रहा है। उपायुक्त ने सदर अनुमंडल पदाधिकारी सुजीत कुमार सिंह को इस मामले को निपटाने का निर्देश दिया। बताते चलें कि जनता दरबार कार्यक्रम के माध्यम से जनता उपायुक्त के समक्ष अपनी समस्याओं से अवगत कराते हैं। उपायुक्त द्वारा उनके समस्याओं का त्वरित निष्पादन किया जाता है।