ALL देश विदेश सम्पादकीय राजनीति अपराध खेल मनोरंजन चुनाव आध्यात्म सामान्य
मिर्जापुर :: शौचालय व धान क्रय केंद्र का जिलाधिकारी ने किया निरीक्षण
February 24, 2020 • aaditya prakash srivastava • सामान्य

अन्नपूर्णा श्रीवास्तव, मिर्जापुर। जिलाधिकारी सुशील कुमार पटेल आज जनपद भ्रमण के दौरान ग्राम बामी में जाकर एन.आर.एल.बी. योजना के अंतर्गत बनाए गए शौचालयों का स्थलीय निरीक्षण किया।

इस दौरान जिलाधिकारी गांव के एक-एक लाभार्थियों के पास जाकर मिले तथा उनका शौचालय देखा कि उपयोग किया जा रहा है या नहीं? शौचालय खोल कर भी निरीक्षण किया। इस दौरान घरों के 9 व 10 वर्ष के छोटे बड़े बच्चों से पूछा गया तो बच्चों ने बताया कि शौचालय में जाते हैं। निरीक्षण के दौरान शौचालय पूर्ण न होने तथा जो पूर्ण है उन पर पेंटिंग व लाभार्थी का नाम लिखा ना होने पर कड़ी नाराजगी व्यक्त करते हुए ग्राम प्रधान से कहा कि सभी शौचालयों को पूर्ण कराएं तथा सभी पर पेंट कराकर लाभार्थियों वह योजना का नाम लिखा जाए। कुछ पूर्ण शौचालयों पर चाक से लाभार्थियों व योजना का नाम लिखा पाया गया।

जिला पंचायत राज अधिकारी के द्वारा बताया गया कि इस गांव में ए.बी.एम. योजना के तहत 308, एल.ओ.बी. के 494 तथा एन.ओ.एल.बी. के 132 शौचालयों से लाभार्थियों को लाभान्वित किया गया है। निरीक्षण के दौरान योजना के शौचालय पूर्ण दिखा। परंतु एन.ओ.एल.बी. के कुछ निर्माणाधीन पाए गए। जिसे डीएम द्वारा 3 दिन के अंदर पूरा कराने का निर्देश दिया गया। तदुपरांत जिलाधिकारी लालगंज में खाद्य विभाग के धान क्रय केंद्र का भी निरीक्षण किया। जहां पर धान को लेकर किसानों की भीड़ लगी रही। जिलाधिकारी ने केंद्र प्रभारी को निर्देशित किया कि जिस किसान की ट्राली खड़ी है उनके ट्राली पर जाकर टोकन दिया जाए तथा क्रमवार तौल कराया जाए। उन्होंने कहा कि 100 कुंतल के नीचे वाले लघु किसानों को वरीयता के आधार पर पहले टोकन दे कर तौल करा लिया जाय। इस दौरान बताया गया कि दिनांक 10 फरवरी को 50 किसानों को टोकन दिया गया तथा 59 टोकन पर 178 लोगों का धान क्रय किया गया। जिस पर जिलाधिकारी ने कहा कि जिस किसान के नाम का खतौनी है उसी के अनुसार उसी का ही धान क्रय किया जाए। उन्होंने उपस्थित डिप्टी आर.एम.ओ. से कहा कि केंद्रों पर निगरानी रखी जाए किसी भी प्रकार की अनियमितता और लापरवाही बर्दाश्त नहीं की जाएगी। इस अवसर पर जिला पंचायत राज अधिकारी अरविंद कुमार, प्रशांत शुक्ला, ओम प्रकाश उपाध्याय के अलावा अन्य अधिकारी उपस्थित रहे।