ALL देश विदेश सम्पादकीय राजनीति अपराध खेल मनोरंजन चुनाव आध्यात्म सामान्य
मिर्जापुर :: निशुल्क विधिक सहायता के लिए पीड़ित क्षतिपूर्ति योजना-2014 एवं विभिन्न सामाजिक योजनाओं विषय पर विधिक साक्षरता/ जागरूकता शिविर का किया गया आयोजन
January 10, 2020 • aaditya prakash srivastava • सामान्य

अन्नपूर्णा श्रीवास्तव, मिर्जापुर। निशुल्क विधिक सहायता, उत्तर प्रदेश पीड़ित क्षतिपूर्ति योजना-2014 एवं विभिन्न सामाजिक योजनाओं विषय पर विधिक साक्षरता/ जागरूकता शिविर का आयोजन किया गया। तहसील सदर मिर्जापुर के प्रांगण में जिला विधिक सेवा प्राधिकरण मिर्जापुर के तत्वाधान में पूर्णकालिक सचिव श्री अमित कुमार यादव द्वितीय ने मां सरस्वती का अभिनंदन कर निशुल्क विधिक सहायता उत्तर प्रदेश पीड़ित क्षतिपूर्ति योजना 2014 एवं विभिन्न सामाजिक योजनाओं विषय पर जागरूकता शिविर कार्यक्रम का शुभारंभ किया।शिविर की अध्यक्षता करते हुए पूर्णकालिक सचिव अमित कुमार यादव द्वितीय ने उपस्थित जनों को अवगत कराया कि गरीब असहाय अनपढ़ महिला पुरुष पीड़ित व्यक्ति के किसी भी समस्या के निदान अथवा निशुल्क विधिक सहायता प्राप्त करने के लिए जिला विधिक सेवा प्राधिकरण दीवानी न्यायालय में स्थित कार्यालय में अपना प्रार्थना पत्र प्रस्तुत करने पर उसे निशुल्क सहायता अथवा अधिवक्ता प्रदान किया जाता है। उन्होंने यह भी बताया कि राज्य विधिक सेवा प्राधिकरण लखनऊ द्वारा उत्तर प्रदेश पीड़ित क्षतिपूर्ति योजना 2014 के तहत बलात्कार पीड़िता को तीन लाख, तेजाबी हमला पीड़ित को 5 लाख, मानव तस्करी से पीड़ित को 2 लाख, तेजाबी हमले के अतिरिक्त जलने पर शरीर के 25 प्रतिशत से अधिक प्रभावित होने पर 2 लाख, बलात्कार के अतिरिक्त यौन उत्पीड़न पर 50 हजार, गर्भ की क्षति पर 50 हजार तथा गर्भधारण क्षमता की क्षति पर पीड़िता को डेढ़ लाख का क्षतिपूर्ति प्राप्त करने के लिए अपना प्रार्थना पत्र जिलाधिकारी पुलिस अधीक्षक अथवा जिला विधिक सेवा प्राधिकरण कार्यालय में प्रस्तुत करने पर क्षतिपूर्ति लाभ उपलब्ध कराया जाता है, साथ ही उन्होंने यह भी बताया कि छोटे-छोटे विवादों को आपसी सुलह समझौता के माध्यम निपटारा कराया जा सकता है। जिससे न्यायालय का भार एवं समय दोनों की बचत होती है। सुलह समझौता हेतु दीवानी न्यायालय परिसर में मेडिएशन सेंटर बनाया गया है उसमें विवादों को सुलह समझौता से मामलों का निपटारा कराया जाता है। शिविर में नायब तहसीलदार मझवा उमेश चंद्र मध्यस्थ, सुरेश कुमार त्रिपाठी, सुरेंद्र कुमार दुबे ने उपस्थितजनों को दीवानी पारिवारिक तथा छोटे बड़े मामलों को मेडिएशन एवं सुलह समझौता के माध्यम से मेडिएशन विषय पर विस्तार पूर्वक जानकारी दिया। जागरूकता शिविर में तहसील के समस्त अधिवक्तागण एवं कर्मचारियों ने उपस्थित होकर सहयोग प्रदान किया।