ALL देश विदेश सम्पादकीय राजनीति अपराध खेल मनोरंजन चुनाव आध्यात्म सामान्य
मिर्जापुर :: माता विध्यवासिनी के दरबार मे सूबे के मुखिया ने शीश झुकाया और पूजन अर्चन के बाद हुए गंंगा यात्रा में हुए शामिल
January 29, 2020 • aaditya prakash srivastava • राजनीति
अन्नपूर्णा श्रीवास्तव मिर्जापुर(२९ जनवरी)। उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्य नाथ का आगमन मिर्जापुर के विंध्याचल में हुआ। मुख्यमंत्री ने माता विध्यवासिनी के दरबार मे शीश झुकाया और पूजन अर्चना किया। वहींं साथ में मिर्जापुर नगर के विधायक पंडित रत्नाकर मिश्रा भी रहें और विंध्यकारीडोर की जानकारी भी दिया। जल्द से जल्द अधिकारी उसपर चर्चा करें और भी बहुत सी बातें और चर्चा हुई। उसके बाद मुख्यमंत्री ने अमरावती चौराहे पर बने पूर्व प्रधानमंत्री स्वर्गीय अटल बिहारी बाजपाई के मूर्ति का अनावरण किया।
गौरतलब है कि पूर्व निर्धारित कार्यक्रम के अनुसार उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ आज मिर्जापुर के विंध्याचल क्षेत्र में मां विंध्यवासिनी का पूजा अर्चन करने के बाद विन्ध्य कोरिडोर की जानकारी भी लिया और  पूर्व प्रधानमंत्री स्वर्गीय अटल बिहारी वाजपेई के बने मूर्ति का अनावरण किया और उस अमरावती चौराहे को अटल जी के नाम पर सबोधित किये जाने पर बात किया। मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने मिर्जापुर जिला प्रशासन को दो टूक मेें दो माह के अंदर विंध्यवासिनी मंदिर कॉरिडोर पर अमल करने का निर्देश दिया। वहीं मुख्यमंत्री ने कहा कि मां विंध्यवासिनी मंदिर कॉरिडोर शासन की महत्वाकांक्षी योजना है, शासन इस योजना के लिए कटिबद्ध है। अधिकारियों को इसे मूर्त रूप देने के लिए कड़ा निर्देश दिया। सूत्रों की माने तो विंध्य कॉरिडोर के मामले को लेकर के कुुछ पांडा आपस में भिड़ गए थे जिसको लेकर के योगी आदित्यनाथ को मिर्जापुर की धरती पर मां विंध्यवासिनी के आना था लेकिन पांडवों के विरोध के चलते किसी कारणवश नहीं आ पा रहे थे। बहाना मां गंगा का निर्मल यात्रा बना और योगी आ करके विंध्य कॉरिडोर की डगर में आ रही बाधा को सुलझाने का प्रयास किया।गंगा निर्मल यात्रा के दौरान सभा को संबोधित करते हुए योगी आदित्यनाथ ने बताया कि क्या यात्रा दोनों ओर से चली और जिस प्रकार मिर्जापुर में यात्रा का भव्य स्वागत किया गया एक उसी प्रकार दूसरे तरफ बलिया में भी यात्रा का पुरुष और स्वागत किया गया और इस दौरान लगभग कई सभाएं हुई जिसमें आम जनमानस ने पूरा खोलकर सहयोग किया योगी आदित्यनाथ ने कहा कि इस नमामि गंगे यात्रा से जुड़ कर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को धन्यवाद ज्ञापित करना है कि हमें इस कार्यक्रम में सहभागी बनाया और वही मां गंगा को भी योगी ने धन्यवाद ज्ञापित किया कि मां गंगा धरती पर आकर के हमें कृतज्ञ किया। इस अवसर पर योगी ने कहा कि युगों-युगों से नाता है गंगा हमारी माता है।

भाजपा कार्यकर्ताओं व पदाधिकारियों में काफी आक्रोश देखा गया। वहीं भाजपा नेत्री नीरू श्रीवास्तव ने बताया कि कार्यकर्ताओं को एनएसजी ने जोरदार धक्का दिया। वहीं विन्ध्याचल डाक बंगले में भाजपा व अपना दल(एस) कार्यकर्ताओं व पदाधिकारियों को गेट पर खड़े पुलिसकर्मियों द्वारा जाने से रोक दिया गया। नेताओं व पुलिसकर्मियों के बीच हुई नोकझोंक का मामला सामने आया है। वहीं भाजपा नेता व कार्यकर्ताओं से बातचीत करने पर पता चला कि मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ विन्ध्याचल अमरावती चौराहे पर अटल चौक का उद्घाटन कर अष्टभुजा डाक बंगले पर पहुंचे। मुख्यमंत्री जी के अंदर जाने के बाद भाजपा कार्यकर्ताओं व पदाधिकारियों को डाक बंगले में पास रहने के बावजूद भी अंदर जाने से रोका गया व मुख्यमंत्री के साथ आये एनएसजी द्वारा कार्यकर्ताओं के साथ अभद्रता की गई।इस अवसर पर मुख्यमंत्री के संबोधन के दौरान लगभग आधे से ज्यादा कुर्सियां खाली दिखी।वहींं कार्यक्रम के दौरान भाजपा के महिला कार्यकत्री खराटे लेते दिखीं। इस अवसर पर उत्तर प्रदेश सरकार के सांसद, विधायक व मंत्रीगण सहित भाजपा कार्यकर्ता उपस्थित रहे।