ALL देश विदेश सम्पादकीय राजनीति अपराध खेल मनोरंजन चुनाव आध्यात्म सामान्य
मजिस्ट्रेट चेकिंग में ९ बिना टिकट श धराए ,जुर्माने की किया गया वसूली, मची भगदड़
November 6, 2019 • aaditya prakash srivastava • अपराध

शहाबुद्दीन अहमद, कुशीनगर केसरी, बेतिया पश्चिम चंपारण, बिहर। बेतिया शहर के रेलवे स्टेशन पर मजिस्ट्रेट चेकिंग के दौरान यात्रियों के बीच भगदड़ मच गई और पुलिस बलों के सख्ती से बहुत से बेटिकट यात्री पकडे गए, जिसको रेल न्यायिक मजिस्ट्रेट के सामने पेश किया गया। रेल न्यायिक दंडाधिकारी मानस कुमार ने बताया कि इन के समक्ष प्रस्तुत किए गए बे टिकट यात्रियों से जुर्माना के रूप में ₹9000 की वसूली की गई है। राशि वसूल करने के बाद उन्हें मुक्त कर दिया गया।

इस सघन जांच से प्लेटफार्म पर दिनभर अफरातफरी मची रही और रेल राजस्व में भी इजाफा हुआ। बे टिकट के लिए काउंटर पर लंबी कतारों सुबह से लगे रहे इस तरह की घटना विगत दिनों में भी हुई थी जिसमें 13 यात्री टिकट यात्री पकड़े थे और उसे जुर्माना वसूल करके छोड़ दिया गया था, और जिन्होंने जुर्माना अदा नहीं किया था उन्हें जेल की हवा खानी पड़ी थी ,इतना होने के बावजूद भी अभी भी बहुत से यात्री बेटिकट यात्रा करने पर मजबूर हैं, रेलवे ने कई जगह पर यह लिख कर टांगा है कि वे टिकट यात्रा करना दंडनीय अपराध है, मगर फिर भी लोग भी बेटिकट यात्रा करने पर अतुर हैं ,पता नहीं चलता है कि लोग 20 -25 -30 रुपया का टिकट नहीं कटा कर हजारों ₹2000 जुर्माना देने पुलिस की जेयादती सहने के आदी हो गए हैं इस तरह वे टिकट यात्रा करने वाले यात्रियों को बड़ी बेइज्जती का सामना करना पड़ता है ,साथ-साथ आर्थिक दंड भी अदा करना पड़ता है, थोड़ी सी समझ अगर वे टिकट यात्रा करने वालों को आ जाए तो फिर इस तरह की बदनामी और पुलिस की जबरदस्ती नहीं सहनी पड़ेगी।