ALL देश विदेश सम्पादकीय राजनीति अपराध खेल मनोरंजन चुनाव आध्यात्म सामान्य
मझौलिया :: गुदरा पंचायत में शोभा की वस्तु बनी नल जल योजना
February 22, 2020 • aaditya prakash srivastava • राजनीति

● गुदरा पंचायत के तीन वार्डों में नल जल अनियमितता को लेकर कार्रवाई तय। ● एक साल से नल लगा है लेकिन नही मिल रहा है जल, जेई ने किया जांच।विजय कुमार शर्मा, बिहार, मझौलिया। प्रखंड के ग्रामीण क्षेत्रो में शुद्ध एवं स्वच्छ पेय जल मुहैया कराने के सरकार की महत्वकांक्षी योजना महज दिखावा साबित हो रही है।जहां योजना के क्रियान्वयन में काफी लापरवाही बरती जा रही है।जिसके चलते योजना का लाभ अबतक ग्रामीणों को नही मिल पा रहा है।बताते है कि मझौलिया प्रखंड के गुदरा पंचायत स्थित पांच वार्डो में महज दो वार्डो के ग्रामीणों को नल से जल मोहैया हो रहा है ।जबकि तीन वार्डो में पिछले एक साल से नल तो लगा है परंतु उससे जल नही टपक रहा है।

पंचायत के मुखिया देवशरण प्रसाद ने बताया इन वार्डो के वार्ड सदस्यों को राशि उठाव कर आज तक योजना पूर्ण नही करने क़ो लेकर अनेको बार नोटिस दिया गया है। इसके बाद भी कार्य अधूरा है। वार्ड नम्बर 1, 2 तथा 3 में जांच करने पहुचे जेई दीनबंधु प्रसादने बताया की नल जल योजना में अनियमितता तथा राशि गबन के मामले में वार्ड क्रियान्वयन समिति को नोटिस जारी करते हुए उनके खिलाफ कार्यवाही के लिए वरीय पदाधिकारियो को प्रतिवेदन सौपा गया है। उन्होंने बताया इन वार्डो के परिवारों में मात्र 90 घरो में ही नल लगा है परंतु उसमे भी समय से जल नही आ रहा है।
गौरतलब हो कि वार्ड नंबर 3 में नल जल योजना शोभा की वस्तु बनकर रह गई है।नल जल की स्थिति इतनी दयनीय है कि ग्रामीण छोटेलाल प्रसाद,बैंगनी देवी,प्रमिला देवी, लीलावती देवी आदि ने बताया कि इस योजना का पाईप गंदे नाले से होकर लोगों के घरों में लगाया गया है।जिससे ग्रामीणों ने मन बना लिया है कि पानी चलने के बाद भी उसका सेवन कतई नही करेंगे। उस वार्ड में जगह जगह लगे नल बेकार साबित हो रहेहै तथा सरकारी सरकारी राशि का खुल्लम खुल्ला दुरुपयोग प्रतीत हो रहा है। इस संदर्भ में बीडीओ चंदन कुमार ने बताया कि जेई के जांच प्रतिवेदन के आधार पर वार्ड क्रियान्वयन समिति के विरुद्ध कानूनी कार्रवाई किया जायेगा । और नीलाम पत्र जारी करते हुए राशि वसूली की जाएगी।