ALL देश विदेश सम्पादकीय राजनीति अपराध खेल मनोरंजन चुनाव आध्यात्म सामान्य
कुशीनगर :: समाचार कवरेज करने गए पत्रकारों से प्रधानाचार्या द्वारा रणचंडी का रूप धारण कर बदसलूकी को लेकर पत्रकारों नें डीएम को सौंपा ज्ञापन, त्वरित कार्यवाही की किया मांग
December 6, 2019 • aaditya prakash srivastava • राजनीति

आदित्य प्रकाश श्रीवास्तव, कुशीनगर केसरी, कुशीनगर। मध्यान भोजन में गड़बड़ी की मिली सूचना पर कवरेज करने गए पत्रकारों को कवरेज करने से रोकते हुए वहां की प्रधानाचार्या ने रणचंडी का रूप धारण कर पत्रकारों से बदसलूकी करना शुरू कर दिया और यहां तक पत्रकारों से कहा कि यह मेरा कैंपस से यहां से बाहर चले जाओ। मैं कवरेज नहीं करने दूंगी। जिस से आहत पत्रकारों ने जिलाधिकारी कुशीनगर से मिलकर एक ज्ञापन सौंपा इसमें पत्रकारों ने मांग किया कि पत्रकारों से बदसलूकी करने वाले इस घटना का त्वरित जांच कराकर तत्काल महिला प्रधानाचार्या का निष्कासन होना चाहिए ताकि आगे से कोई भी अधिकारी या कर्मचारी पत्रकारों को किसी प्रकार के समाचार को कवरेज करने में अपनी टांग ना अड़ाए।गौरतलब है कि बीते शनिवार को सुकरौली ब्लाक के बीआरसी परिसर में प्राइमरी और जूनियर विद्यालय के प्रांगण में मिली सूचना के आधार पर कुछ पत्रकारों ने मिड मध्यान भोजन के रियलिटी चेक करने के लिए कवरेज करने पहुंचे तो वहां गड़बड़झाला दिखा। उस दिन के मीनू के अनुसार भोजन न देखकर पत्रकारों ने कवरेज करना शुरू कर दिया तो इस गड़बड़झाले को पचाने के लिए वहां स्थित प्राइमरी की प्रधानाचार्या शिल्पी मिश्रा ने रणचंडी रूप धारण करते हुए पत्रकारों से उलझ गई और कवरेज करने से रोकना चालू कर दिया और वही कवरेज करने गए पत्रकारों को धमकी भी देना शुरू कर दिया यह मेरा प्रांगण है यहां से निकल जाओ वरना तुम लोग को ठीक कर दूंगी। अभी तो यह मध्यान भोजन का एक दिन का गड़बड़झाला है और रोज बच्चोंं को क्या खिलाते हैं यह मास्टर साहब इसी से पता लगाया जा सकता है। यह बच्चों का निवाला तक भी उनको ठीक प्रकार से नहीं देते और सरकार के नियमों की धज्जियां उड़ाते रहते हैं। इस घटना से आहत पत्रकारों ने जिलाधिकारी को ज्ञापन सौंप उक्त प्रकरण की किसी सक्षम अधिकारी से जांच कराकर त्वरित कार्यवाही की मांग की है।इस दौरान एसएन शुक्ला, अशोक शुक्ला, संतोष सिंह, प्रमोद कुमार, अमरनाथ पांडेय, गोविंद पटेल, प्रवीण यादव सहित दर्जनों पत्रकार उपस्थित रहे।