ALL देश विदेश सम्पादकीय राजनीति अपराध खेल मनोरंजन चुनाव आध्यात्म सामान्य
कुशीनगर :: लोगो को उठानी होगी परेशानियां, लेखपालों ने बस्ता जमा कर काम किया ठप्प
November 6, 2019 • aaditya prakash srivastava • राजनीति

आदित्य प्रकाश श्रीवास्तव, कुशीनगर केसरी, कुशीनगर। प्रदेश सरकार द्वारा लेखपालों की लंबित माँगो को पूरा नही करने के विरोध में वेतन नही तो काम नही के तर्ज पर जिले की सभी तहसीलों में रिक्त लेखपाल क्षेत्र का बस्ता कार्यालय में जमा कर उस क्षेत्र का काम नही करने का निर्णय लिया है। जिससे उन गाँव के लोगोंं को किसी भी प्रकार के पेंसन, प्रमाण पत्र, वरासत तथा दाखिल खारिज में काफी परेशानियों का सामना करना पड़ेगा।

उ0प्र0ले0 संघ के प्रांतीय कार्यकारिणी के आह्वान पर शासन स्तर पर वर्षों से लम्बित विभिन्न माँगो को पूरा नही करने के विरोध में जनपद के सभी तहसीलों में रिक्त 122 लेखपाल क्षेत्र का बस्ता कार्यालय में जमा कर उन हल्को का काम नही करने का निर्णय लिया गया हैं। ग्रेड पे 2800 ,ए0सी0पी0 विसंगति ,पदनाम उप राजस्व निरीक्षक करने ,शैक्षणिक योग्यता स्नातक करने ,उपराजस्व निरीक्षक सेवा नियमावली प्रख्यापित करने सहित विभिन्न सात माँगो को पूरा कराने को लेकर लेखपाल काफी दिनोंं से प्रयासरत हैंं। जिसको लेकर वे कई बार आंदोलन भी कर चुके है। लेखपाल संघ के जिलामंत्री बंस बहादुर यादव ने बताया कि हमारी माँगो पर सरकार द्वारा कोई विचार नही किये जाने को लेकर प्रदेश कार्यकारिणी के द्वारा चरणबद्ध आंदोलन करने का निर्णय लिया गया लिया गया है 14 नवंबर को जिलाचिकित्सालय पर रक्तदान, 19 को साइकिल रैली, 26 को तहसीलों पर धरना देंगे लेखपाल। माँगे नही माने जाने पर 5 दिसम्बर को प्रदेश के सभी लेखपाल लखनऊ पहुँच कर विधान का घेराव करेंगे।