ALL देश विदेश सम्पादकीय राजनीति अपराध खेल मनोरंजन चुनाव आध्यात्म सामान्य
कुशीनगर :: किसी विस्फोटक पदार्थ से हुआ था धमाका मस्जिद में इनवर्टर की बैटरी से नहीं, सात के खिलाफ केस
November 13, 2019 • aaditya prakash srivastava • अपराध

सुनील कुमार तिवारी, कुशीनगर केसरी, कुशीनगर।थाना तुर्कपट्टी क्षेत्रान्तर्गत ग्राम बैरागीपट्टी के पश्चिम में स्थित मस्जिद में हुए धमाके के सम्बन्ध में मौके पर ग्रामीणों द्वारा अवगत कराया गया था कि मस्जिद के स्टोर के रूम में संभवतः इन्वर्टर की पुरानी बैटरी के फट जाने से धमाका हुआ था। सभी पहलुओं की जांच हेतु बी.डी.डी.एस. टीम बुलायी गयी थी। टीम द्वारा जांच से मौके पर विस्फोटक पदार्थ होने की पुष्टि की गयी। तदोपरान्त प्रज्ञान निरीक्षक, विशेष अभिसूचना अधिकारी, इन्टेलीजेंस व्यूरो टीम, ए.टी.एस. टीम, थानाध्यक्ष तुर्कपट्टी द्वारा संयुक्त रूप से मस्जिद के मौलवी अजीमुद्दीन उर्फ अजीम पुत्र सरफुद्दीन स्थायी निवासी डुबकुल दक्षिण शाहपुर पोस्ट शाहपुर थाना गोलपोखर जिला उत्तरी दिनाजपुर, पश्चिम बंगाल, वर्तमान पता- ग्राम बैरागीपट्टी थाना तुर्कपट्टी जनपद कुशीनगर से गहन पूछताछ किये जाने पर ज्ञात हुआ कि करीब रमजान से पूर्व माह में मस्जिद सफाई के दौरान मुहम्मद हाजी कुतुबद्दीन पुत्र स्व0 विसैनी ग्राम वैरागीपट्टी द्वारा प्लास्टिक की 01 बोरी में कुछ सामान लाकर उसी गांव के  1- इजहार पुत्र सकिर 2- आशिक पुत्र अब्दुल 3- जावेद पुत्र ईश मोहम्मद 4- मुन्ना पुत्र रियाजुद्दीन से मस्जिद के स्टोर रूम की कोठरी के मध्य में छत में लगे चुल्ला में बोरी लटकवा दिया गया था जिससे दिनांक 11.11.2019 को बोरी में विस्फोट हुआ और दरवाजे, खिड़की के शीशे तथा पी.ओ.पी. क्षतिग्रस्त हो गये।

इस सम्बन्ध में थाना तुर्कपट्टी पर मु0अ0सं0- 325/19 धारा- 147, 295,120बी, भादवि व 5 विस्फोटक अधिनियम व 7 सी.एल.ए. एक्ट विरूध्द 1- मौलाना अजीमुद्दीन उर्फ अजीम स्थायी निवासी डुबकुल दक्षिण शाहपुर पोस्ट शाहपुर थाना गोलपोखर जिला उत्तरी दिनाजपुर पश्चिम बंगाल, 2- हाजी कुतुबुद्दीन पुत्र विशेनी 3- अशफाक आलम पुत्र फैजुद्दीन 4- इजहार अंसारी पुत्र सकिर अंसारी 5- आशिक अंसारी पुत्र अब्दुल अंसारी 6- जावेद अंसारी पुत्र ईश मुहम्मद 7- मुन्ना उर्फ सलाउद्दीन अंसारी पुत्र रियाजुद्दीन अंसारी निवासीगण बैरागीपट्टी थाना तुर्कपट्टी जनपद कुशीनगर* पंजीकृत कर विवेचना उपनिरीक्षक प्रेमनारायण सिंह द्वारा संपादित की जा रही है। विवेचना के क्रम में अभियुक्त *1- मौलाना अजीमुद्दीन उर्फ अजीम पुत्र सरफुद्दीन 2- इजहार अंसारी पुत्र सकिर अंसारी 3- आशिक अंसारी पुत्र अब्दुल अंसारी 4- जावेद अंसारी पुत्र ईश मुहम्मद* को गिरफ्तार कर आवश्यक कार्यवाही की जा रही है। 
घटना के सम्बन्ध में सम्पूर्ण पूछताछ से अब तक किसी प्रकार की आंतकवादी/विघटनकारी या राष्ट्रविरोधी गतिविधि प्रकाश में नहीं आयी है। प्रथम दृष्टया मस्जिद मे विस्फोटक सामग्री एक बोरी में बांधकर स्टोर रूम के छत के मध्य लोहे के चुल्ले से लटकाया जाना पाया गया है और चारो तरफ शीशे के दरवाजे और खिड़की के बन्द रहनें से इसमें स्वतः विस्फोट होना प्रतीत होता है। विवेचना प्रचलित है, जिसमें अन्य तथ्यों का गहन परीक्षण भी किया जायेगा।