ALL देश विदेश सम्पादकीय राजनीति अपराध खेल मनोरंजन चुनाव आध्यात्म सामान्य
कुशीनगर :: अपराधों के प्रति सजग रहें थानेदार,लापरवाही मिली तो बक्से नहीं जायेंगे : कप्तान
February 9, 2020 • aaditya prakash srivastava • सामान्य

सुनील कुमार तिवारी, कुशीनगर। पुलिस अधीक्षक कुशीनगर विनोद कुमार मिश्र द्वारा शनिवार को पुलिस लाइन्स स्थित सभाकक्ष में मासिक अपराध गोष्ठी का आयोजन कर जनपद की कानून-व्यवस्था की समीक्षा की गयी। गोष्ठी का प्रारम्भ में स्थिति की जानकारी ली गयी, तथा जनपद के विभिन्न थानों से आये पुलिस कर्मियों का सैनिक सम्मेलन किया गया। जिसमें कर्मचारीगण द्वारा पूर्व में बतायी गयी समस्याओं के निराकरण की जानकारी ली गयी। सभी थाना प्रभारियों को अपने अधीनस्थों से प्रतिदिन वार्ता कर उनकी समस्याओ का निराकरण करने हेतु निर्देशित किया गया।अपराध गोष्ठी में निम्न बिन्दुओं पर विशेष ध्यान देते हुये आवश्यक दिशा-निर्देश दिया गया :::...

1 – अज्ञात अभियोगों को वर्क आउट किया जाये। 2 – गौ तस्करी / गौकसी के अपराधों पर जीरो टालरेन्स रखते हुए प्रभावी निरोधात्मक कार्यवाही की जाये। 3 – अवैध शराब निष्कर्षण/ बिक्री, मादक पदार्थों की बिक्री, परिवहन के विरूद्ध कार्यवाही किया जाये । 4 – हत्या, बलात्कार, लूट, डकैती, चोरी के अपराधो पर पुर्णतया अंकुश लगाने व प्रभावी कार्यवाही करने हेतु निर्देशित किया गया। इस संबन्ध में कार्य योजना भी बनायी गयी। 5 – एण्टी रोमियों स्क्वाड द्वारा कालेज एंव विद्यालय के आस-पास शोहदों के विरूद्ध कार्यवाही किया जाये। 6 – टॉप 10 में चिन्हित अपराधियों के विरूद्ध आवश्यक निरोधात्मक कार्यवाही किया जाये तथा टाँप 10 अपराधियों की सूची को निरन्तर अद्यावधिक (अपडेट) करते हुए नये अपराधियों को सूची में सम्मिलित किया जाय। 7 – थानों मे पड़े मालों का निस्तारण किया जाय। लावारिस, लादावा, केस प्रापर्टी, आर0टी0ओ0 द्वारा दाखिल वाहनों का नियमानुसार निस्तारण किया जाये। 8 – मा0 न्यायालय में गवाहों की शत-प्रतिशत उपस्थिति कराकर गवाही दर्ज करायी जाये तथा मुकदमों में पैरवी कर अधिक से अधिक मामलों में अपराधियों को सजा दिलवायी जाय। 9 – विवेचनाओं के निस्तारण, पुराने मालों के निस्तारण, जनता द्वारा दिये गये शिकायती प्रर्थना पत्रों के निस्तारण के सम्बन्ध में कड़े निर्देश दिये गये। शहर व ग्रामीण इलाकों में रात्रि गश्त बढ़ाने, अभियुक्तों के प्रति वैधानिक कार्यवाही, वांछित / वारंटियों की शत प्रतिशत गिरफ्तारी किये जाने व निरोधात्मक कार्यवाही में गुण्डा अधिनियम, गैंगेस्टर अधिनियम व रासुका के अन्तर्गत कार्यवाही किये जाने आदि बिन्दुओं पर निर्देश दिया गया। 10 – पुरस्कार घोषित अपराधियों के बारे में समीक्षा कर उनकी शीघ्र गिरफ्तारी करने के लिए कड़े निर्देश दिये गये। 11 – अपराधिक घटना की सूचना पर घटनास्थल पर तत्काल पहुचने तथा आवश्यक कार्यवाही करनें के सम्बन्ध में निर्देश दिया गया। 12 – आम जनता से अच्छा व्यवहार, जनप्रतिनिधियों का सम्मान तथा मीडिया के लोगो से भी अच्छा सम्बन्ध रखनें एवं किसी भी घटना के समय घटना के बारे में सही जानकारी से तत्काल सभी को अवगत कराया जाय ताकि आम जनता में गलत लोगो द्वारा कोई अफवाह न फैलाई जा सके। 13 – अपराध नियन्त्रण हेतु प्रभावी कदम उठाने तथा अपराधियो के विरुध्द अफेन्सिव पुलिसिंग करते हुए उचित एक्शन लेने हेतु निर्देश दिया गया। 14 – 1090 पर प्राप्त शिकायतो का थाना पर प्रतिदिन अनुश्रवण करनें का निर्देश दिया गया।
उक्त गोष्ठी में पुलिस अधीक्षक कुशीनगर सहित समस्त क्षेत्राधिकारी, प्रतिसार निरीक्षक, निरीक्षक प्रज्ञानशाखा, निरीक्षक रेडियोशाखा,* समस्त प्रभारी निरीक्षक /थानाध्यक्ष, आशुलिपिक पुलिस अधीक्षक, प्रधान लिपिक, प्रभारी आंकिक शाखा, प्रभारी मीडिया सेल, प्रभारी डीसीआरबी शाखा, प्रभारी विशेष जॉच प्रकोष्ठ, प्रभारी विशेष शिकायत प्रकोष्ठ, प्रभारी डायल-100, प्रभारी यातायात, रीडर व पी0आर0ओ0 पुलिस अधीक्षक व अन्य अधिकारी / कर्मचारीगण मौजूद रहे ।