ALL देश विदेश सम्पादकीय राजनीति अपराध खेल मनोरंजन चुनाव आध्यात्म सामान्य
जमशेदपुर :: 18 दरिंदों के साथ कानून के रखवालों ने भी मासूम से किया 'महापाप', हवस और हैवानियत की ऐसी घिनौनी दास्तां जिसे सुनकर आपकी रूह कांप उठेगी
November 15, 2019 • aaditya prakash srivastava • अपराध

डेस्क, कुशीनगर केसरी, जमशेदपुर, झारखंड। हैवानियत की ऐसी घिनौनी दास्तां सामने आई है, जिसे सुनकर आपकी रूह कांप उठेगी। इंसानियत को शर्मसार और मानवता को तार-तार करती ये खबर हमें ये सोचने पर मजबूर कर देती है कि क्या हम उस समाज में रहते हैं, जहां इंसान के रूप में भेड़िये एक मासूम की इज्जत को नोंचने के लिए हर जगह खड़े हैं। 
बताते चलें कि जमशेदपुर के मानगो में 18 लोगों ने एक मासूम के साथ महापाप किया, उसके बाद गुनहगारों को सजा दिलाने का ठेका लिये कानून के रखवालों ने भी ही उसकी अस्मत को तार-तार कर दिया. अपने साथ हुई हैवानियत की इस दास्तां को पीड़िता ने रो-रोकर एडीजे-5 की कोर्ट के सामने बयां किया। पीड़िता ने कोर्ट को बताया कि उसके साथ 18 गुनहगारों ने गलत काम किया। साथ ही उसका वीडियो भी बनाकर उसे ब्लैकमेल किया। आरोपियों ने जंगल में ले जाकर उसके साथ महापाप किया। फिर जब पुलिस उसे MGM थाने लाई तब कानून के रखवाले डीएसपी और इंस्पेक्टर ने भी मासूम के साथ दुष्कर्म किया. जिसके बाद एक महिला उसकी चाची बनकर आयी और उसे छुड़ा कर ले गयी। इस घटना के बाद भी उसे एनएच-33 स्थित कई होटलों में ले जाया गया। जहां कई और लोगों ने उसके साथ दुष्कर्म किया और उसका वीडियो भी बनाया. पीड़िता जिस अपार्टमेंट में रहती थी, वहां के फ्लैट में भी ले जाकर उसके साथ दरिंदगी की गई. पीड़िता ने रो-रोकर कोर्ट में इंसाफ की गुहार लगाई है. इस मामले की अगली सुनवाई 23 नवंबर को होगी. अब देखना ये होगा कि गुड़िया के गुनहगारों को कब सजा मिलेगी.