ALL देश विदेश सम्पादकीय राजनीति अपराध खेल मनोरंजन चुनाव आध्यात्म सामान्य
छपरा (सारण) :: डीजीपी गुप्तेश्वर पांडेय के साथ सेल्फी लेना एक शराब बरामद मामले में फरार चल रहे अभियुक्त को पड़ा भारी, सेल्फी के कुछ घंटों में ही हो गई गिरफ्तारी
December 24, 2019 • aaditya prakash srivastava • अपराध

विजय कुमार शर्मा, कुशीनगर केसरी, बिहार, छपरा (सारण)। एकमा प्रखंड के परसा पूर्वी पंचायत के तिलकार छपिया में प्रदेश के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार के जल जीवन हरियाली यात्रा के दौरान रविवार को आगमन को लेकर सुरक्षा व्यवस्था को ध्यान में रखकर यहां पहुंचे बिहार के डीजीपी गुप्तेश्वर पांडेय के साथ सेल्फी लेना एक शराब बरामद मामले में फरार चल रहे अभियुक्त को भारी पड़ गया। बताया गया है कि डीजीपी के साथ की सेल्फी की फोटो कुछ सोशल मीडिया समूहों में शेयर होने के कुछ घंटों के बाद ही मांझी थाने की पुलिस ने आरोपी इस अभियुक्त को अहले सुबह ही गिरफ्तार कर जेल भेजने की कार्रवाई कर दी है।
मांझी थाना पुलिस ने दाउदपुर थाना क्षेत्र के गोबरहीं गांव निवासी बंधु यादव के पुत्र सत्यप्रकाश यादव को गिरफ्तार कर जेल भेज दिया। मालूम हो कि गत दिनों मुबारकपुर गांव से बरामद एक ट्रक पर लदे मुर्गी के दाने के बीच शराब बरामद मामले में दर्ज प्राथमिकी में वह भी आरोपी था। उक्त मामलों के दो अन्य आरोपियों की अबतक गिरफ्तारी नहीं हो सकी है। थानाध्यक्ष नीरज मिश्रा के अनुसार शेष दोनों आरोपियों की गिरफ्तारी के लिए पुलिस छापेमारी अभियान चला रही है।
सूत्रों के अनुसार पुलिस के पूछताछ के क्रम में कई अन्य लोगों के नाम का खुलासा किया है। पुलिस मामले की छानबीन कर रही है। क्षेत्र में चर्चा दिनभर इस बात की होती रही कि शराब बरामद मामले का यह आरोपित बिहार के डीजीपी गुप्तेशवर पांडेय के साथ सेल्फी वाली तस्वीर के माध्यम से पुलिस प्रशासन की कार्यवाही से बचने और आम जनता के बीच अपनी भौकाल जमाने के लिए उपयोग में लाना चाहता था जो शायद आसपास में ही मौजूद सफेदपोश किसी नेताजी के एक इशारे में ही भारी पड़ गया।