ALL देश विदेश सम्पादकीय राजनीति अपराध खेल मनोरंजन चुनाव आध्यात्म सामान्य
बेतिया(पश्चिम चंपारण) :: भारतीय आजाद मंच के द्वारा नप सभापति को सम्मान पत्र से किया गया सम्मानित
May 4, 2020 • aaditya prakash srivastava • राजनीति

शहाबुद्दीन अहमद, कुशीनगर केसरी/केके न्यूज24, बेतिया(पश्चिम चंपारण), बिहार(०४ मई)। कोरोना वायरस के संक्रमण से बचाव हेतु शहर को सैनिटाइज साफ-सफाई तथा अपने निजी कोष से नि:शुल्क भोजन एवं सूखा राशन वितरण में सभापति गरिमा देवी सिकारिया द्वारा बेहतर भूमिका निभाने पर मंच के द्वारा सम्मान पत्र तथा बुके देकर सम्मानित किया गया। इस दौरान सोशल डिस्टेंस का पूरा ध्यान रखा गया।

वहीं कार्यक्रम को संबोधित करते हुए भारतीय आजाद मंच के प्रदेश अध्यक्ष, शैलेश कुमार दुबे ने बताया कि नगर सभापति गरिमा देवी सिकारिया द्वारा गरीब एवं जरूरतमंदों तक निशुल्क भोजन तथा सूखा राशन पहुंचाने में महत्वपूर्ण भूमिका निभाई जा रही है, साथ ही अन्य पहलुओं पर भी पूरी तत्परता के साथ कार्य किया जा रहा है, जो इस विपदा की घड़ी में नगर सभापति की यह सजगता काबिले तारीफ है, ये वो कोरोना योद्धा हैं जो अपनी परवाह ना करते हुए अपने दुखों को भुलाकर जन सेवा में निस्वार्थ भाव से लगी हुई हैं। लोगों की सुविधाओं हेतु दिन रात मेहनत कर रही हैं, जिससे हमारी दैनिक चर्या सुगम बनी रहे। इन सभी कार्यों को देखते हुए हम सभी उन का तहे दिल से धन्यवाद करते हैं। उनकी सेवा के बदले हमने उन्हें छोटा सा सम्मान देकर उन्हें सम्मानित किया है जिसकी वे वास्तव में हकदार हैं। वही मंच के ज़िलाध्यक्ष अनुराग। चतुर्वेदी ने कहा कि नगर सभापति गरिमा देवी सिकारिया की कड़ी मशक्कत के कारण भी आज बेतिया शहर कोरोना के कहर से बचा हुआ है। आज नप सभापति एवं नगर परिषद के द्वारा कराई जा रही साफ सफाई की बदौलत ही बेतिया स्वस्थ और स्वच्छ है। श्री चतुर्वेदी ने कहा कि कोरोना वायरस संक्रमण जैसी बीमारी से हमें डरने व घबराने की कोई जरूरत नहीं है, बल्कि इस महामारी का डटकर मुकाबला कर इसे भगाने की जरूरत है। साथ ही साथ हमें ऐसे योद्धाओं का भी हौसला बढ़ाकर सहयोग करना है, जो दिन रात मेहनत कर इस भयावह बीमारी कोरोना वायरस संक्रमण को भगाने में जुटे हुए हैं। इस सम्मान के लिए विशेष रुप से सभापति गरिमा देवी सिकारिया ने भारतीय आजाद मंच को धन्यवाद व्यक्त किया तथा इस दौरान नगर सभापति ,गरिमा देवी सिकारिया ने बताया कि बताया कि इस लॉक डाऊन के कारण निर्धन,असहाय व गरीब मज़दूरों के सामने अपनी पेट भरने की समस्या उत्पन्न हो गयी है जिसे ध्यान में रखते हुए अपने निजी कोष से हज़ारीमल धर्मशाला के पास प्रतिदिन निःशुल्क भोजन की व्यवस्था की गई है,यह कार्यक्रम लॉक डाऊन समाप्ति तक निरन्तर चलता रहेगा, जिससे निर्धन व असहाय भूखे सोने को मजबूर ना हों। मौके पर अंकित कुमार, राजा कुमार इत्यादि मौजूद रहे।