ALL देश विदेश सम्पादकीय राजनीति अपराध खेल मनोरंजन चुनाव आध्यात्म सामान्य
बेतिया(प.चं.) :: ठगी ,धोखाधड़ी और रंगदारी का मामला थमने का नाम नहीं, प्राथमिकी दर्ज
January 26, 2020 • aaditya prakash srivastava • अपराध

शहाबुद्दीन अहमद, बेतिया(प.चं.), बिहार। जिले के अंतर्गत शहरी एवं ग्रामीण क्षेत्रों में ठगी, धोखाधड़ी और रंगदारी का मामला थमने का नाम नहीं ले रहा है, पुलिस प्रशासन की कमी के कारण यह सभी घटनाएं घट रही हैं। अपराधियों को सही समय पर सजा नहीं मिलने से भी उनका मनोबल बढ़ता जा रहा है और वह घटना ,दुर्घटना करने पर मजबूर हो रहे हैं। इसी क्रम में एक टेलर मास्टर ने ₹५ लाख का धोखाधड़ी, परिचय का लाभ उठाकर कर लिया है।

इस संबंध में कोतवाली चौक के शिशिर जायसवाल ने नगर थाने में प्राथमिकी दर्ज कराई है। नगर थानाध्यक्ष शशिभूषण ठाकुर ने बताया कि शिशिर के आवेदन पर लाल बाजार स्थित जेंटलमैन टेलर मास्टर हैदर अली उर्फ मोती उसके भाई मुबारक उर्फ दानिश के खिलाफ प्राथमिकी दर्ज कर ली गई है, मामले की जांच कर अपराधियों को गिरफ्तार किया जाएगा , जायसवाल ने बताया कि परिचय के आधार पर अपने भाई का मेडिकल कराने के नाम पर ₹5 लाख मांगा और लौटाने का वादा करके अभी तक नहीं लौटाया, कई दफा मांगने पर दोनों आरोपियों ने अपने दुकान से भगा दिया,साथ ने धमकी देते हुए उधार दी गई राशि लौटाने से इनकार कर दिया।
एक दूसरी घटना में ,रंगदारी के एक मामले में लोहिया स्वच्छ बिहार अभियान के कार्यपालक सहायक से ₹१० लाख की रंगदारी की मांग की गई है, रंगदारी की मांग पूरी नहीं होने पर शहर के लाल बाजार स्थित मकान को हड़पने की कोशिश की जा रही है, इस बाबत लाल बाजार निवासी, कार्यपालक सहायक मनीष कुमार ने नगर थाने में प्राथमिकी दर्ज कराई है। नगर थाना अध्यक्ष शशि भूषण ठाकुर ने संवाददाता को बताया के कार्यपालक सहायक मनीष कुमार के आवेदन पर लाल बाजार निवासी प्रवीन कुमार, उनके पिता पवन कुमार वर्णवाल सहित 10 से 12 अज्ञात लोगों के खिलाफ प्राथमिकी दर्ज कर ली गई है ।मामले की जांच कर आरोपियों की गिरफ्तारी किया जाएगा ,मामले को लेकर थाने में दर्ज कराए गए प्राथमिकी में, मनीष कुमार ने बताया कि प्रवीण और उनके पिता पवन अपराधिक प्रवृत्ति के लोगों के साथ मिलकर उनके मकान हड़पने की कोशिश कर रहे हैं वह आरोपी अज्ञात लोगों के साथ उसके मकान पर आकर बतौर रंगदारी 1000000 रुपए की मांग कर रहे हैं रंगदारी नहीं देने पर जान मारने की धमकी दे रहे हैं।
इस तरह की घटनाएं पूरे जिले में नित्य दिन घट रही हैं ,मगर पुलिस प्रशासन है कि मूकदर्शक बनी हुई है, पुलिस गश्ती दल भी अपनी जिम्मेवारी निभाने ने सक्षम नहीं हो पा रही है।