ALL देश विदेश सम्पादकीय राजनीति अपराध खेल मनोरंजन चुनाव आध्यात्म सामान्य
बेतिया(प.चं.) :: स्वामी विवेकानंद के जन्मदिवस पर ज्ञान अंतर्राष्ट्रीय विश्वविद्यालय द्वारा आयोजित अंतर्राष्ट्रीय समारोह में सम्मानित हुए स्वच्छ भारत मिशन के ब्रांड एंबेसडर सह सचिव सत्याग्रह रिसर्च फाउंडेशन डॉ0 एजाज अहमद
January 13, 2020 • aaditya prakash srivastava • राजनीति

शहाबुद्दीन अहमद, बेतिया(प.चं.), बिहार। भारतवर्ष को विश्व पटल पर गौरवान्वित कराने वाले स्वामी विवेकानंद के जन्मदिवस पर प्रज्ञान अंतर्राष्ट्रीय विद्यालय रांची झारखंड द्वारा झारखंड में आयोजित अंतर्राष्ट्रीय समारोह में विश्व शांति एवं मानव अधिकारों के रक्षा के लिए राष्ट्रीय अंतर्राष्ट्रीय स्तर पर उत्कृष्ट कार्यों के लिए स्वच्छ भारत मिशन के ब्रांड एंबेसडर सह सचिव सत्याग्रह रिसर्च फाउंडेशन डॉ0 एजाज अहमद को प्रज्ञान अंतर्राष्ट्रीय विश्वविद्यालय द्वारा फिनलैंड के राजपूत सह यूनाइटेड नेशन विश्वविद्यालय अमेरिका एवं प्रज्ञान अंतर्राष्ट्रीय विश्वविद्यालय के चांसलर डॉ सुरेश कुमार अग्रवाल द्वारा डॉ एजाज अहमद एवं डॉ0 शाहनवाज अली को सम्मानित किया गया!

इस ऐतिहासिक अवसर पर देश विदेश के अनेक देशों के राजदूत ,अनेक विश्वविद्यालयों के पदाधिकारी एवं विभाग विभाग अध्यक्ष सम्मिलित हुए! मुख्य अतिथि के रूप में फिनलैंड के राजदूत सह यूनाइटेडनेशन यूनिवर्सिटी अमेरिका के वरिष्ठ अधिकारी ने डॉ एजाज अहमद एवं डॉ0 शाहनवाज अली को प्रशस्ति पत्र देकर उनके विश्व शांति के अभियानों एवं राष्ट्रपिता महात्मा गांधी के सत्य अहिंसा एवं आपसी प्रेम को विश्व के कोने कोने तक पहुंचाने के लिए सराहना की! इस ऐतिहासिक अवसर पर एशिया अफ्रीका एवं लैटिन अमरीका के अनेक गणमान्य व्यक्ति मौजूद रहे! मयमार एवं अफ्रीकी देश नाइजीरिया से आए अतिथियों ने डॉ एजाज अहमद शाहनवाज अली , डॉ नीरज गुप्ता एवं सत्याग्रह रिसर्च फाउंडेशन की शोध एवं अनुसंधान टीम द्वारा सत्य अहिंसा एवं आपसी प्रेम पर किए जा रहे कामों की सराहना की! महात्मा गांधी एवं कस्तूरबा गांधी 150वीं जन्म शताब्दी पर विश्व भर में गांधी दर्शन, विश्व शांति एवं शिक्षा के क्षेत्र में किए गए अतुल योगदान के लिए प्रज्ञान अंतर्राष्ट्रीय विश्वविद्यालय के चांसलर डॉ0 सुरेश कुमार अग्रवाल को अंतर्राष्ट्रीय सद्भावना सम्मान से सत्याग्रह रिसर्च फाउंडेशन की अंतरराष्ट्रीय टीम द्वारा सम्मानित किया गया! यह सम्मान सत्याग्रह रिसर्च फाउंडेशन एवं चंपारण निवासियों की ओर से एक छोटा सा प्रयास है! सत्याग्रह रिसर्च फाउंडेशन की शोध एवं अनुसंधान शिष्टमंडल रांची में उस जगह भी पहुंची ! जहां पर 4 जून 1917 को राष्ट्रपिता महात्मा गांधी चंपारण सत्याग्रह को सफल बनाने एवं चंपारण की जनता को नील से मुक्ति दिलाने के लिए रांची पहुंचे थे! इस ऐतिहासिक अवसर पर सत्याग्रह रिसर्च फाउंडेशन द्वारा राष्ट्रपिता महात्मा गांधी एवं रांची झारखंड के स्वतंत्रता सेनानियों को श्रद्धांजलि अर्पित की गई !इस ऐतिहासिक अवसर को झारखंड के विधायक माननीय अमित मंडल ने कहा कि कहां की सत्याग्रह रिसर्च फाउंडेशन द्वारा किया जाने वाला काम काबिले तारीफ है! जब भी मौका मिलेगा हम चंपारण की पावन धरती का दर्शन करेंगे!