ALL देश विदेश सम्पादकीय राजनीति अपराध खेल मनोरंजन चुनाव आध्यात्म सामान्य
बेतिया(प.चं.) :: सेंंट थेेेसेस बालिका प्राथमिक विद्यालय में हस्त कला एवं विज्ञान प्रदर्शनी कला का किया गया आयोजन
December 13, 2019 • aaditya prakash srivastava • मनोरंजन

शहाबुद्दीन अहमद, कुशीनगर केसरी, बेतिया, बिहार। बेतिया नगर के छात्राओं का प्रसिद्ध विद्यालय सेंंट थेेेसेस बालिका प्राथमिक विद्यालय में आज १३ दिसंबर को हस्त कला एवं विज्ञान प्रदर्शनी कला का आयोजन किया गया। इस हस्त कला एवं विज्ञान प्रदर्शनी कला के आयोजन के मुख्य अतिथि श्री राकेश डिक्रूज समन्वयक, जिला विधिक सेवा प्राधिकार द्वारा कार्यक्रम का शुभारंभ दीप प्रज्वलन कर एवं फीता काटकर किया गया।कार्यक्रम के प्रारंभ में विद्यालय की सभी बालिकाओं द्वारा मुख्य अतिथि सहित सभी वरीय सिस्टर के स्वागत समारोह में स्वागत गान... घुंघरू बजाती है हवा... कहते हैं हम हैप्पी वेलकम.. गीत की प्रस्तुति की गई। इस प्रस्तुति के बाद बालिका प्राथमिक विद्यालय की प्रधानाचार्य सिस्टर शिखा द्वारा मुख्य अतिथि को सम्मानित के रूप में फूल का गुलदस्ता सहित अंग वस्त्र प्रदान किया गया।वहीं मुख्य अतिथि द्वारा सभी प्राथमिक वर्ग के बालिकाओं द्वारा बनाए गए विज्ञान प्रदर्शनी एवं हस्तकला का निरीक्षण किया गया। मुख्य अतिथि द्वारा बालिकाओं के बनाए गए सभी हस्त कला एवं विज्ञान प्रदर्शनी को जो जल जीवन हरियाली एवं कई प्रकार के वेस्ट मटेरियल जिन्हें आम लोग द्वारा बेकार समझकर फेंक दिया जाता है, उन बेकार वस्तुओं को विज्ञान पद्धति द्वारा कई प्रकार के यंत्र को बालिकाओं ने बनाया, उन सभी वस्तुओं को जिन्हें प्रदर्शनी में सजाया गया वो प्राथमिक विद्यालय के वर्ग एलकेजी से पंचम वर्ग तक के छात्राओं द्वारा बनाए गए उपकरण एवं कला के प्रदर्शन की तारीफ की गई।वहीं कई प्रदर्शनी ऐसी भी दिखी जो मुख्य अतिथि सहित आए अभिभावक गण के द्वारा प्रशंसा के तारीफ के पात्र दिखे। इस प्रदर्शनी के निरीक्षण में मुख्य अतिथि राकेश डिक्रूज के साथ प्राथमिक बालिका विद्यालय की प्रधानाध्यापिका सिस्टर शिखा, बालिका हाई स्कूल की प्रधानाध्यापिका सिस्टर रेखा, टीचर ट्रेनिंग कॉलेज की प्रधानाध्यापिका सिस्टर आयरीन, सिस्टर जस्सी आदि ने निरीक्षण करते हुए बालिकाओं के सभी प्रदर्शन को बहुत बेहतर प्रदर्शन की बात कही व इनके कार्यो कि सराहना की। वही मुख्य अतिथि राकेश डिक्रूज ने छात्राओं के मनोबल को बढ़ाते हुए कहा ऐसे प्रदर्शन कई नई सीख दिलाती हैं, समाज को नए रूप देने में यह सभी प्रदर्शन अग्रसर रहेंगे। मेरी शुभकामनाएं इन सभी छात्राओं के साथ है कि हर साल की भांति इस साल भी यह समाज को अपने प्रदर्शन के जरिए नया रंग रूप देने में अपनी पूरी मेहनत की। आगे भी यह समाज को नए रंग रूप में ढालने की कोशिश अपने इस हस्त कला एवं विज्ञान प्रदर्शनी के जरिए बेहतर प्रदर्शन करेंगे। इस कार्यक्रम को सफल बनाने में विद्यालय की शिक्षिकाओं में जसिन्ता, मार्जरी, कविता, प्रियंका, पुष्पा आदि शिक्षिका सहित विद्यालय की कुछ छात्राएं पंखुड़ी, पल, वर्षा, जैनब, प्रियम, चंदा आदि ने अपना बहुमूल्य सहयोग दिया।