ALL देश विदेश सम्पादकीय राजनीति अपराध खेल मनोरंजन चुनाव आध्यात्म सामान्य
बेतिया(प.चं.) :: साप्ताहिक निःशुल्क संस्कृत पाठशाला का शुभारम्भ
February 11, 2020 • aaditya prakash srivastava • सामान्य

विजय कुुुमार शर्मा, बिहार, बेतिया(प.चं.)। नगर क्षेत्र अंतर्गत जोड़ा शिवालय मंदिर प्रांगण में 9 फरवरी 2020 को देश की संस्कृति, सभ्यता और धर्म चेतना को जगाने हेतु बच्चों के उत्कृष्ट भविष्य को देखते हुए एक नए पहल की शुरुआत हेतु हिंदू जागरण मंच, बेतिया, पश्चिमी चंपारण के सदस्यों द्वारा जोड़ा शिवालय मंदिर प्रांगण में सप्ताहिक निःशुल्क संस्कृत पाठशाला का शुभारंभ किया गया। जहां काफी संख्या में संस्कृत विषय में रुचि रखने एवं वैदिक मंत्रोचार को जानने हेतु काफी बच्चे सहित लोग उपस्थित हुए।वहीं इस मंत्रोच्चार व संस्कृत ज्ञान को दीक्षा देने मुजफ्फरपुर जिला अंतर्गत मोतीपुर प्रखंड के आर आर वि. उ.विधालय के संस्कृत के सहायक शिक्षक आचार्य परमानन्द दूबे उर्फ मंटू नाथ शास्त्री जिनका निवास बेतिया के सिरिसिया अड्डा है के द्वारा पाठशाला का संचालन किया गया। उन्होंने कहा कि संस्कृत दीक्षा पर जितनी प्रकाश डाली जाए वह कम है, पौराणिक एवं धार्मिक चेतना को जगाने वाली संस्कृत विषय काफी सरल विषय हैं। इसे अगर लग्न, आत्ममंथन द्वारा ज्ञान इसकी अर्जित किया जाए तो काफी आगे के भविष्य सुखद व सफल दायक सिद्ध होगा। हमारे पूर्वज एवं वेद ग्रंथों में देखा जाए तो देश का प्रथम विषय संस्कृति है। जो पहले के ऋषि मुनि द्वारा रचित जितनी भी रचनाएं एवं वेदों में मंत्रोचार दर्शाए गए हैं वह सभी संस्कृत लिपि में दर्शाए गए हैं। पहले के राजा, महाराजा एवं वेद गुरु द्वारा शुद्ध संस्कृत की बोली बोली जाती थी। इसलिए अपनी सभ्यता व संस्कृति को बचाने के लिए हमें संस्कृत ऐसे विषय को उच्च स्तर पर ले जाने हेतु इस ज्ञान का प्रचार- प्रसार बहुत जरूरी है जो कि नगर ही नहीं बल्कि ग्रामीण क्षेत्रों में भी इस विषय पर विशेष रूप से ज्ञान देना जरूरी है जिसकी शुरुआत आज जोड़ा शिवालय मंदिर से प्रारंभ किया जा रहा है। इस संस्कृत पाठशाला को आज हिंदू जागरण मंच द्वारा प्रारंभ करने के लिए आचार्य परमानन्द दूबे ने हार्दिक धन्यवाद देते हुए समाज में एक नई पहल करने के लिए साधुवाद किया है। हिन्दू जागरण मंच के जिला महामंत्री आशुतोष कुमार बरनवाल ने कहा कि संस्कृत पाठशाला से हमारे समाज और हमारे बच्चों में वैदिक ज्ञान और संस्कार के साथ संस्कृति का पुनर्जन्म होगा। जो कि हम आधुनिकता के कारण अपने सभ्यता से दूर होते जा रहे हैं। हमें सिर्फ यह कोशिश करनी चाहिए कि हमारे घर का प्रत्येक बच्चा इस पाठशाला में अवश्य आएं। अपनी पौराणिकता को जानते हुए संस्कृति की संस्कृत को अवश्य ज्ञानार्जन करें। अब समय की मांग है कि संस्कृत और संस्कृति को पुनर्जीवित किया जाए। संस्कृत पाठशाला के चलने के दरम्यान हिन्दू जागरण मंच के सभी कार्यकर्ता और अधिकारी भी मंदिर प्रांगण में मौजूद रहे। पाठशाला की समाप्ति के पश्चात हिन्दू जागरण मंच ने अपना 39 वां निःशुल्क भोजन वितरण भी जोड़ा शिवालय मंदिर से शुरू करते हुए रेलवे स्टेशन परिसर में वितरित करके समाप्त किया। जिला मंत्री मनीष पोद्दार, दीपक कुमार, दिनेश कुमार, जिला उपाध्यक्ष सुभाष कुमार, मनीष माधोगड़िया, राजेश बरनवाल, मीडिया प्रभारी मीशु कुमार, नगर अध्यक्ष रंजीत कुमार, नगर उपाध्यक्ष मोहित कुमार, अंकित कुमार, नगर मंत्री श्रीराम शर्मा, दीपू राव, नगर सह मंत्री समर्थ गोयल, कुणाल कुमार, गोलू बरनवाल, विवेक कुमार सिंह, भानूप्र।

उच्चाधिकारियों के आदेश की अवहेलना के आरोप में कार्यपालक सहायक मैनाटॉड की संविदा सेवा को रद्द
बेतिया (सोनू भारद्वाज)। अनाधिकृत रूप से लगातार अनुपस्थित रहने एवं उच्चाधिकारियों के आदेश की अवहेलना के कारण जिलाधिकारी द्वारा राजेश कुमार, कार्यपालक सहायक, मैनाटॉड की संविदा सेवा को रद्द कर दी गयी है। बीडीओ के पत्रांक 198 दिनांक 11.06.19 के द्वारा सूचित किया गया था कि अद्योहस्ताक्षरी के आदेशअनुसार मैनाटांड प्रखण्ड के ग्राम पंचायत राज बष्ठा कार्यपालक सहायक राजेश को मुख्यमंत्री ग्रामीण पेयजल योजना एवं मुख्यमंत्री गली नाली पक्ककीकरण योजना की अपलोडिंग व्यवस्था के कार्य के निमित ग्राम पंचायत संबद्ध किये जाने के पश्चात् योदान दिये जाने हेतु निदेश दिया गया था। परन्तु कार्यपालक सहायक श्री कुमार द्वारा पंचायत सचिव एवं प्रखण्ड कार्यपालक सहायक, मैनाटांड के सम्पर्क करने के बावजूद भी योदान नहीं दिया गया। लोक सभा आम चुनाव 2019 के मद्देनजर जिला स्तर पर गठित जिला सामग्री कोषांग में इनकी प्रतिनियुक्ति पूनः की गयी। निर्वाचन प्रक्रिया समाप्त होने के उपरान्त इस कार्यालय के पत्रांक 424/पंचायत दिनांक 17.05.19 द्वारा प्रतिनियुक्ति समाप्त करते हुये संबद्ध ग्राम पंचायत में योगदान करने हेतु विरमित किया गया था। फिर भी श्री कुमार द्वारा अपने संबंद्ध ग्राम पंचायत में योगदान नहीं दिया गया। योदान नही दिये जाने के कारण ग्राम पंचायत बष्ठा का हतत्वपूर्ण कार्य आरटीपीएस काउंटर आदि का कार्य बाधित रहा। इस प्रकार अनाधिकृत रूप से लगातार अनुपस्थित रहने एवं उच्चाधिकारियों के आदेश के अवहेलना करने के मामले में जिला पंचायत कार्यालय के ज्ञापां 617/पंचायत के माध्यम से कारण पृच्छा प्रसतु करने का निदेश दिया गया। अनुपस्थित रहने के बिन्दू पर बिना समुचित कारण का उल्लेख करते हुये इनके द्वारा दिये गये स्पष्टीकरण का अवलोनक किया गया जो संतोषप्रद नहीं रहने के कारणआवेदन अस्वीकार कर दिया गया। बिना लिखित सूचना देकर लगातार अनुपस्थित रहने की प्रवृति इनके मानमाने रवैये एवं स्व्ेच्छाचारिता को परिलक्षित करता है।