ALL देश विदेश सम्पादकीय राजनीति अपराध खेल मनोरंजन चुनाव आध्यात्म सामान्य
बेतिया(प.चं.) :: मूर्ति विसर्जन के दौरान डूबे दो युवकों का शव हुआ बरामद, परिजनों को उपलब्ध कराया जाएगा सहायता राशी
October 11, 2019 • aaditya prakash srivastava

विजय कुमार शर्मा, कुुुशीनगर केेेसरी, बिहार। हरसिद्धी थाना क्षेत्र के भादा पंचायत में स्थित भादा नहर पुल के समिप नाहर मे विगत बुधवार को शाम करीब चार बजे बौधीमाई परिसर के पूजा समिति द्वारा मूर्ति विसर्जन के दौरान ओल्हाॅ गाँव के दो युवक भरत साह के पुत्र गौतम कुमार एवं अंबिका ठाकुर के पुत्र उपेन्द्र ठाकुर डूब गए। घटना की सूचना मिलते ही एसडीओ धिरेन्द्र कुमार मिश्र, डीएसपी ज्योति प्रकाश, बिडीओ सुनिल कुमार, सिओ सतीश कुमार, थानाध्यक्ष मनोज कुमार दलबल के साथ घटना स्थल पर पहुँचे। प्रशासन व स्थानीय ग्रामीणों के मस्क्कत के बाद वृहस्पतिवार को मृतकों का शव बरामद हो सका।

घटना की सूचना मिलते ही हजारों की संख्या में ग्रामीण घटना स्थल पर पहुँचकर जमे रहे। बीच-बीच में उपस्थित प्रशासन को ग्रामीणों के आक्रोश का भी सामना करना पड़ा। मौके पर उपस्थित अनुमंडल पदाधिकारी धिरेन्द्र कुमार मिश्र एवं डीएसपी ज्योती प्रकाश ने संयुक्त रूप से पीड़ित परिवार के प्रति गहरी संवेदना प्रकट की, साथ ही एसडीओ श्री मिश्र ने कहा कि स्थानीय राजस्व कर्मचारी के माध्यम से पीड़ित परिवार से संबंधित दस्तावेज जामा कराकर अग्रेतर कार्रवाई शुरू कर दी गई है और मेरा प्रयास है कि जल्द ही प्रत्येक पिडित परिवार को सरकारी सहायता राशि चार लाख रूपए मुहैया करा दी जाए।
मौके पर उपस्थित स्थानीय मुखिया दरोगा प्रसाद व पंचायत सचिव लालबाबु प्रसाद ने बताया कि प्रत्येक पीड़ित परिवार को कबीर अंतेयष्टी योजना से तीन हजार रुपए अंतिम संस्कार के लिए उपलब्ध कराया जाएगा।
शव बरामदगी मे स्थानीय ग्रामीण व चौकिदार तपसिर आलम ने कड़ी मशक्कत की। वहीं दोनों युवकों के शव को अंत्यपरीक्षण के लिए सदर अस्पताल मोतिहारी भेज दिया गया। मौके पर युवा समाज सेवी विशंभर तिवारी , पैक्स अध्यक्ष मन्टु तिवारी, जिला पार्षद हरिशंकर प्रसाद, प्रमुख पती पप्पु पासवान, सरपंच बृजमोहन शुक्ल, समाज सेवी अखिलेश शुक्ल आदि हजारों की संख्या में ग्रामीण मौजूद थे।

एक साथ डूबे दो युवकों की ओल्हाॅ गाँव से निकली अर्थी गाँव में पसरा मातमी सन्नाटा

विगत बुधवार को हरसिद्धी थाना क्षेत्र के भादा नाहर पुल के समिप नाहर मे मूर्ति विसर्जन के दौरान ओल्हाॅ मेहता टोला पंचायत के ओल्हाॅ निवासी भरत साह के पुत्र गौतम कुमार उम्र करीब 22 वर्ष एवं अंबिका ठाकुर के पुत्र उपेन्द्र ठाकुर उम्र करीब 31 वर्ष की डूबने से मौत हो गई । उक्त गाँव से एक साथ अलग अलग परिवारों के दो युवकों की अर्थी निकलने से ग्रामीणों मे मातमी सन्नाटा छाई हुई हैं । शालिन व मिलनसार स्वभाव के धनी मृतक गौतम भरत साह के द्वितीय पुत्र थे । वहीं मृतक उपेन्द्र परिवार के कमाउ सदस्य थे। मृतक उपेन्द्र के तीन नन्हे बच्चे, पत्नी एवं बूढ़े माता पिता हैं। तीन नन्हे बच्चे मृतक का शव पहुँचते ही रोने लगे उनकी एक ही सवाल थी पापा कहा गए ? पापा बोलिए। मृतक की पत्नी रोते हुए बार-बार बेहोश हो जा रही थी एक ही रट लगा रही थी अब हम केकरा सहारे जिअम ए बौधी माता, लईका केकरा के पापा कहीयेन सन ?
उक्त हृदय विदारक घटना से गाँव में मातमी सन्नाटा छाया हुआ हैं । सबके चेहरे पर उदासी छाई हुई हैं , सबकी आँखें नम है , सबके जुबान से एक सवाल निकल रहा हैै ए माता इ का कईनी ह ? वहीं दोनों युवकों का अंतिम संस्कार कर दिया गया।