ALL देश विदेश सम्पादकीय राजनीति अपराध खेल मनोरंजन चुनाव आध्यात्म सामान्य
बेतिया(प.चं.) :: जिला पदाधिकारी ने जिले के तेरह अंचल अधिकारियों के वेतन पर लगाई रोक
December 18, 2019 • aaditya prakash srivastava • राजनीति

शहाबुद्दीन अहमद, कुशीनगर केसरी, बेतिया(प.चं.), बिहार। जिला पदाधिकारी पश्चिम चंपारण ,डॉक्टर नीलेश रामचंद्र देवरे ने दाखिल खारिज के वादों का निष्पादन में उदासीनता पर जिला के तेरह अंचल अधिकारियों के वेतन पर रोक लगा दी है, जो तत्काल प्रभाव से लागू हो गया है।

जिला पदाधिकारी ने जिन अंचल अधिकारियों के वेतन पर रोक लगाई गई है ,उनमें बगहा१ बेरिया ,जोगापट्टी ,मधुबनी, मैनाटांड़,नरकटियागंज ,नौतन, पिपरासी ,बगहा 2 ,चनपटिया, मझौलिया व लोरिया के अंचलाधिकारी शामिल है, अपर समाहर्ता, नंद किशोर साह ने संवाददाता को बताया कि लंबित मामलों के निष्पादन में तेजी लाने का निर्देश दिया गया है, ताकि सरकार के इस प्राथमिकता वाले क्षेत्र में बेहतर उपलब्धि प्राप्त हो सके, खराब उपलब्धि वाले अंचल अधिकारियों को दाखिल खारिज शिविर में हर हाल में लंबित वादों के निष्पादन का आदेश दिया गया है ,दाखिल -खारिज मामलों के निष्पादन में तेजी लाने को लेकर डीएम ने निर्देश दिया है ,अंचलावार समीक्षा में अब तक 40% मामलों के निष्पादन हुए हैं। अपर समाहर्ता ने लंबित वादों के निष्पादन के लिए संबंधित पक्ष से संपर्क कर उसमें आ रही त्रुटि को हर हाल में दुरुस्त करने को कहा है ,ताकि मामलों का निष्पादन समय पर हो सके।
अपर समाहर्ता ने लोगों को दाखिल -खारिज के आवेदन आरटीपीएस काउंटर के माध्यम से ही जमा करने की अपील की है, उन्होंने कहा है कि आवेदन जमा करने के समय किस तरह के त्रुटि रह जाती है तो उसका निराकरण वही कर लिया जाएगा, ऐसे में उनके आवेदनों के लंबित होने की संभावना नहीं रहेगी, इसके अलावा आवेदन जमा करते समय अपना मोबाइल नंबर सही लिखकर ही दें ताकि किसी प्रकार की जानकारी हासिल करने में सहायता मिल सके।