ALL देश विदेश सम्पादकीय राजनीति अपराध खेल मनोरंजन चुनाव आध्यात्म सामान्य
बेतिया(प.चं.) :: जिला औकाफ कमिटी की बैठक का हुआ आयोजन
February 9, 2020 • aaditya prakash srivastava • राजनीति

शहाबुद्दीन अहमद, बेतिया(प.चं.) बिहार। जिला समाहरणालय के सभागार में ,जिला अवकाफ कमेटी की एक आवश्यक बैठक की गई, जिसमें जिला अवकाफ कमेटी के नोडल पदाधिकारी- सह-जिला अल्पसंख्यक कल्याण पदाधिकारी, बैजनाथ प्रसाद की अध्यक्षता में बैठक का आयोजन किया गया। इस अवसर पर जिला अवकाफ कमेटी के अध्यक्ष, सैयद अब्दुल मजीद, सचिव, रूहुल अमीन खान, उपाध्यक्ष ,सैयद शहाबुद्दीन अहमद, उपसचिव, असलम खान हक्की के साथ जिला अवकाफ कमेटी के सदस्य गुलरेज अख्तर, नौसेरआलम, कफील अहमद, रुकनुद्दीन अहमद, (अधिवक्ता), सैयद नईम अख्तर के अलावा अवकाफ कमेटी के सदस्य उपस्थित थे। बैठक में जिला अवकाफ कमेटी के बहुत से चर्चित बिंदुओं पर चर्चा की गई और सरकार द्वारा घोषित अल्पसंख्यकों के विकास हेतु कार्यक्रमों पर चर्चा की गई, तथा इसको कार्यान्वयन हेतु विचार विमर्श करके इसको लागू करने के लिए जोर दिया गया।
बैठक के दौरान जिला अल्पसंख्यक कल्याण पदाधिकारी -सह -नोडल पदाधिकारी ,बैजनाथ प्रसाद ने जिला अवकाफ कमेटी के सभी सदस्यों को सरकार के सभी योजनाओं के बारे में विस्तृत रूप से जानकारी दी तथा विचार-विमर्श करके विकास के काम को लागू करने हेतु सहयोग मांगा, इसके अलावा जिला अंतर्गत जितने भी अवकाफ की भूमि पर लोगों ने कब्जा जमा रखा है या उस को बेचने की प्रक्रिया चल रही है उस पर रोक लगाने के लिए उचित कदम उठाने पर बल दिया , ताके जिला अवकाफ कमेटी की भूमि को कब्जा करके बेचने वालों पर रोक लगाने की मांग की गई। इस बैठक में अल्पसंख्यक कल्याण विभाग के द्वारा जारी किए गए प्रपत्र की प्रति सभी जिला अवकाफ कमेटी के सदस्यों को उपलब्ध कराई गई ,जिसको अध्ययन करके इसको लागू करा सकें।
अल्पसंख्यक कल्याण निदेशालय के द्वारा जारी प्रपत्र में ,बिहार राजय मदरसा शुद्धीकरण योजना, ,बिहार राज्य वक्फ विकास योजना , मुस्लिम परित्यक्ता/ तलाकशुदा महिलाओं हेतु सहायता योजना 2018 -19 से संबंधित आवश्यक जानकारियां दी गई, जिससे अल्पसंख्यक समुदाय के लोगों को इससे लाभ मिल सके। इसी बैठक में रमजान अली वक्फ स्टेट संख्या 415 बड़ी मस्जिद की कमेटी पर भी चर्चा की गई ,इस बनाई गई कमेटी की सत्यता की जांच भी कराई गई जो पूर्ण रूप से सही पाया गया है।
जिले में चल रहे सभी वक्फ संपत्तियों की कमेटियों को सही तरह से काम करने पर जोर दिया गया तथा नई कमेटी बनाने के लिए जिला अव काफ कमेटी के सभी सदस्यों की मंजूरी के बाद ही ,बिहार सुन्नी वक्फ बोर्ड,पटना के पास भेजा जाएगा, जहां से कमिटी अप्रूवल होकर आने के बाद ही वह लागू मानी जाएगी अन्यथा उस कमेटी का कोई महत्व नहीं रहेगा। जिला अवकाफ कमेटी की जितनी भी जायदाद है ,उस पर जिन लोगों ने कब्जा कर रखा है या अतिक्रमण कर रखा है या खरीद -फरोख्त कर रहे हैं उस से मुक्ति दिलाने के लिए भी कार्यवाही की जाएगी, ताके कब्जा करने वाले लोग इसको बेच नहीं सके और इसकी रजिस्ट्री नहीं हो सके, इस पर प्रतिबंध लगाने की बात बैठक में चली, पूरे पश्चिम चंपारण मेंअवकाफ की जो जमीन है उसको कब्जा से मुक्त कराया जाएगा और उसका उपयोग अल्पसंख्यक समुदाय के लोगों के लिए उनके विकास के लिए कार्यक्रम बनाकर उस पर भवन निर्माण का कार्य कराया जाएगा ,जिसमें हॉस्टल,हॉस्पिटल मुसाफिरखाना ,मैरिज हॉल, छात्रावास, सामुदायिक भवन, विद्यालय भवन , पुस्तकालय इत्यादि बनाने का कार्यक्रम किया जाएगा जिससे अल्पसंख्यक समुदाय के लोग लाभान्वित हो सकें जिसे सरकार के द्वारा अल्पसंख्यकों के विकास के लिए आवंटित राशि को भवन निर्माण एवं अन्य सरकारी कार्यों में खर्च किया जा सके। बैठक का समापन, जिला अल्पसंख्यक कल्याण पदाधिकारी -सह -नोडल पदाधिकारी ने जिला अवकाफ कमेटी के सदस्यों को धन्यवाद देते हुए किया।