ALL देश विदेश सम्पादकीय राजनीति अपराध खेल मनोरंजन चुनाव आध्यात्म सामान्य
बेतिया(प.चं.) :: जल संरक्षण वायु संरक्षण एवं पर्यावरण संरक्षण के लिए छात्र-छात्राओं ने लिया संकल्प
December 14, 2019 • aaditya prakash srivastava • राजनीति

शहाबुद्दीन अहमद, कुशीनगर केसरी, बेतिया, बिहार। आज १४ दिसंबर को सत्याग्रह रिसर्च फाउंडेशन के सभागार सत्याग्रह भवन में राष्ट्रपिता महात्मा गांधी एवं कस्तूरबा गांधी १५० वी जन्म शताब्दी पर जल संरक्षण ,वायु संरक्षण एवं पर्यावरण संरक्षण पर एक भव्य कार्यक्रम का आयोजन किया गया ! जिसमें विभिन्न सामाजिक संगठनों के प्रतिनिधियों, बुद्धिजीवियों, गांधीवादी चिंतको, पर्यावरण विदों एवं छात्र छात्राओं ने भाग लिया! इस अवसर पर पश्चिम चंपारण कला मंच की संयोजक शाहीन परवीन एवं अंतरराष्ट्रीय पर्यावरणविद सह गांधीवादी चिंतक अमित लोहिया ने राष्ट्रपिता महात्मा गांधी कस्तूरबा गांधी , स्वतंत्रता सेनानियों एवं विश्व भर में पर्यावरण संरक्षण के लिए कार्य करते हुए अपने प्राणों की आहुति देने वाले पर्यावरणविदो को श्रद्धांजलि अर्पित की !

इस दौरान अंतरराष्ट्रीय पर्यावरणविद सह ब्रांड एंबेसडर स्वच्छ भारत मिशन डॉ0 एजाज अहमद ने कहा कि राष्ट्रपिता महात्मा गांधी एवं कस्तूरबा गांधी १५० वी जन्म शताब्दी पर जल संरक्षण ,वायु संरक्षण एवं पर्यावरण संरक्षण पर बात करने का हमें अवसर प्राप्त हो रहा है !यह हमारे लिए गर्व का विषय है। वायु प्रदूषण ,जल प्रदूषण एवं पर्यावरण प्रदूषण आज की समय का सबसे बड़ा सामाजिक समस्या है! जो हमारे स्वास्थ्य से जुड़ा है !वायु एवं जल में मौजूद प्रदूषण हृदय रोग ,गंभीर सांस की बीमारियों ,फेफड़ों के कैंसर एवं मस्तिष्क रोग से होने वाली एक तिहाई मौतों के लिए जिम्मेदार है !वायु प्रदूषण एवं जल प्रदूषण मूल रूप से हमारे जलवायु को नष्ट कर उसे दूषित कर रहे हैं !जिससे देश के नागरिकों के विशेष रुप से बच्चों पर गहरा दुष्ट प्रभाव पड़ा रहा है। प्लास्टिक के बर्तनों के इस्तेमाल से कैंसर जैसे अनेक घातक रोग पानी के माध्यम से प्लास्टिक के कण के रूप में बड़ों एवं बच्चों के शरीर में पहुंच रहे हैं! समय रहते हम अगर हम सचेत नहीं हुए तो आने वाले कुछ ही वर्षों में अनेक घातक स्वास्थ्य समस्याओं से ढूंढना पड़ेगा !हवा भी हमें खरीदनी पड़ेगी। समय रहते समाज एवं राष्ट्र को जगने की आवश्यकता है। जल संरक्षण, वायु संरक्षण एवं पर्यावरण संरक्षण के साथ अपने राष्ट्र को पर्यावरण संरक्षण के माध्यम से भी संरक्षण प्रदान करें।

इस अवसर पर स्वच्छ भारत मिशन के ब्रांड एंबेसडर डॉ नीरज गुप्ता ने छात्र-छात्राओं को जल संरक्षण, वायु संरक्षण एवं पर्यावरण संरक्षण के लिए संकल्प दिलाते हुए कहा कि आज हम सब की जिम्मेवारी है आज ही समय रहते असाध्य बीमारी का इलाज कर लिया जाए! ताकि आने वाले समय में समाज एवं राष्ट्र को इन घातक समस्याओं से बचाया जा सके। बिहार विश्वविद्यालय के डॉ0 शाहनवाज अली ,वरिष्ठ अधिवक्ता शंभू शरण शुक्ल ने कहा कि राष्ट्रपिता महात्मा गांधी एवं कस्तूरबा गांधी १५० वीं जन्म शताब्दी पर समाज एवं सरकार की ओर से यही सच्ची श्रद्धांजलि होगी जल संरक्षण वायु संरक्षण एवं पर्यावरण संरक्षण के लिए सरकारी एवं गैर सरकारी स्तर पर लोगों को जागृत किया जाए ! जल संरक्षण ,वायु संरक्षण एवं पर्यावरण संरक्षण के लिए सत्याग्रह की धरती पश्चिम चंपारण से इस आंदोलन का आरंभ किया गया है! ताकि देश के कोने कोने में राष्ट्रपिता महात्मा गांधी एवं कस्तूरबा गांधी १५० वी जन्म शताब्दी पर जन जागरण के रूप में गांव-गांव, शहर-शहर, विद्यालयों, महाविद्यालयों एवं विश्वविद्यालयों में छात्र-छात्राएं को पर्यावरण संरक्षण ,जल संरक्षण एवं वायु संरक्षण का संकल्प दिला कर समाज में नई जागृति लाई जा सके! जिससे हमारा भारत पर्यावरण संरक्षण के साथ एक विकसित राष्ट्र बन सके!