ALL देश विदेश सम्पादकीय राजनीति अपराध खेल मनोरंजन चुनाव आध्यात्म सामान्य
बेतिया(प.चं.) :: भूमि रजिस्ट्री नहीं करना मां को महंगा पड़ा, बेटा-पतोह ने मिलकर की पिटाई, प्राथमिकी दर्ज
January 20, 2020 • aaditya prakash srivastava • अपराध

शहाबुद्दीन अहमद, बेतिया(प.चं.), बिहार। आज के इस कलयुग में भ्रष्ट युग का विलय हो जाना आम बात बन गई है। इसका उदाहरण स्थानीय नगर थाना क्षेत्र के शहर के किशन बाग मोहल्ले की बताई जा रही है ,इस संबंध में संवाददाता को पता चला है कि एक मानी भूमि रजिस्ट्री नहीं की तो पुत्र व बहू ने जमकर पिटाई कर दी, कमरे में रखे 20 हजार रुपए व आभूषण भी छीन लिए, पीड़िता आयशा खातून ने प्राथमिकी दर्ज कराई है, थाना अध्यक्ष ,शशिभूषण ठाकुर ने संवाददाता को बताया कि आयशा के आवेदन पर उसके पुत्र इमाम हसन व उसकी बहू मुन्नी खातून के खिलाफ प्राथमिकी दर्ज कर कार्रवाई शुरू कर दी गई है। मामले की जांच कर आरोपियों को गिरफ्तार किया जाएगा, प्राथमिकी में आयशा खातून ने बताया है कि सोते वक्त बात करने से मना किया तो दोनों ने पीटकर जख्मी कर दिया, इसके पूर्व मे बेटा और बहू ने जमीन को इन लोगों के नाम करने की बात पूर्व से चली आ रही थी, मगर मां ने इन लोगों को व्यवहार को देखकर जमीन रजिस्ट्री नहीं करने की ठान ली ,इसी को लेकर बेटा -पतोहु मिलकर घर में मां की बड़ी पिटाई की और नगर ₹20 हजार छीन लिया ,साथ में जो आभूषण था उसको भी उठा कर ले गए।
इस कलयुग में भ्रष्ट युग का समाहित होना मानवता पर कलंक नजर आ रही है ,अगर इसी तरह होता रहा तो मां की सेनेह, मानवता पुत्र -पुत्रियों ,बहू पर कभी नहीं हो पाएगी, जर, जमीन, जत्था का होना माता- पिता के लिए गला का घेग बन गया है ,इसीलिए इनके परिजन मारपीट करने एवं जान से मारने की नियत से आतुर रहते हैं, जो इस समाज के लिए तथा मानवता के ऊपर कलंक है और मानवाधिकार का हनन भी है।