ALL देश विदेश सम्पादकीय राजनीति अपराध खेल मनोरंजन चुनाव आध्यात्म सामान्य
बेतिया(प.चं.) ::भारत की कम्युनिस्ट पार्टी (मार्क्सवादी) जिला कमेटी की बैठक पार्टी कार्यालय बेतिया में बैठक हुई सम्पन्न
February 10, 2020 • aaditya prakash srivastava • राजनीति

शहाबुद्दीन अहमद, बेतिया(प.चं.), बिहार। भारत की कम्युनिस्ट पार्टी (मार्क्सवादी)की पश्चिम चम्पारण जिला कमिटी की बैठक पार्टी कार्यालय बेतिया में का.राजकौशल मिश्र की अध्यक्षता में हुई।

बैठक को सम्बोधित करते हुये पार्टी की बिहार राज्य कमिटी के सचिव कामरेड अवधेश कुमार ने कहा कि मोदी सरकार देश में साम्प्रदायिक धुर्वीकरण बनाने में जीतोड़ से लगी हुई है। भारतीय संविधान में छेड़छाड़ किया जा रहा है। जनतांत्रिक अधिकारों पर लगातार हमले किये जा रहे हैं। जनगणना के साथ एन पी आर को भी लागू किया जा रहा है जो एन सी आर का प्रारंभिक कदम है ।गननकर्ता आपके घर जायेगा और आपसे दो प्रश्नों की दो सूचियों के जबाब देने को कहेगा। इनमें से एक सूची जनगणना के लिये है । जिसका जबाब हम सबको देना है। दूसरी सूची राष्ट्रीय आबादी रजिस्टर (एन पी आर) के लिये है । हमें एन पी आर से जुड़े किसी भी सवाल का जबाब नहीं देना है। तो क्यों का जबाब यह है कि एन पी आर के फार्म के पीछे मोदी सरकार की मंशा यह है कि इसका इस्तेमाल एक राष्ट्रीय नागरिक रजिस्टर (एन आर सी )तैयार करने के लिये किया जाय। इस तरह एन पी आर ,एन आर सी की प्रथम सीढ़ी है। हमने देखा है कि असम में एन आर सी तैयार करने की प्रक्रिया में 19 लाख से ज्यादा लोग बाहर छूट गये। जिनमें से ज्यादातर लोग गरीब परिवार के हैं । जिनमें सभी समुदाय के लोग हैं। हमें गर्व है कि हमारी वामपंथी दलों की केरल की सरकार के मुख्यमंत्री तथा सीपीएम की पोलितब्यूरो के सदस्य का.पिनारायी विजयन ने केरल में इसे नहीं लागू करने का विधानसभा में प्रस्ताव पारित कराया ।
मोदी सरकार की आर्थिक नीतियों के चलते देश को भारी तकलीफें झेलनी पड़ रही है ।बेरोजगारी ,आकाश छूटे आवश्यक वस्तुओँ के दाम ,किसानों की आत्महत्याएं ,एकदम अपर्याप्त बृद्धा या विधवा पेंशन आदि समस्याएं जनता के सामने बेहिसाब मुश्किलें खड़ी कर रही है । इस बुनियादी समस्यायों के हल करने के वजाये एन पी आर ,एन आर सी जैसी नफरत की बीज बोने वाली और देश में फूट डालने वाली कार्य पर 54 हजार करोड़ से ज्यादा पैसे झोंकने को तैयार बैठी है। हम देशभक्तों को धर्म ,जाति भाषा तथा एरिया से ऊपर उठकर भारत को बचाना होगा।
जिला मंत्री प्रभुराज नारायण राव ने कहा कि हमें घर घर जाकर बतलाना है। इसके लिये हमें जिले में पदयात्रा निकालने है। 12 से 18 फरवरी तक जन विरोधी वजट के विरुद्ध अभियान चलाना है।
इसके विरुद्ध 15 फरवरी को समाहर्ता के समक्ष वामदल ,सभी धर्मनिरपेक्ष पार्टियों के साथ मिलकर धरना देना है ।
जिले के जन समस्याओं ,गरीब विरोधी बजट ,किसानों को चीनी मिलों द्वारा गन्ना के भुगतान के लिये पार्टी द्वारा बेतिया समाहरनालय पर विशाल प्रदर्शन किया जायेगा।
1 से 3 मार्च तक राजगीर में चलने वाले राज्य स्तरीय शिक्षण शिविर में जिले से 5 प्रतिनिधि भाग लेंगे ।
बैठक में का.प्रभुनाथ गुप्ता ,विजय नाथ तिवारी ,रामा यादव ,म.हनीफ ,वी के नरुला ,प्रकाश वर्मा ,जगरनाथ यादव ,सुनील यादव सरपंच ,शंकर राव ,नीरज वर्णवाल ,वशिष्ठ राय ,अम्बिका पंड़ित, शम्भू आलोक आदि ने भाग लिया।