ALL देश विदेश सम्पादकीय राजनीति अपराध खेल मनोरंजन चुनाव आध्यात्म सामान्य
बेतिया(प.चं.) :: 23 लाख के डेढ़ साल पुराने अग्रिम का हिसाब नहीं देने में फंसे नप के सफाई निरीक्षक
January 11, 2020 • aaditya prakash srivastava • राजनीति

शहाबुद्दीन अहमद, बेतिया, बिहार। दैनिक नप कर्मियों के मानदेय मद में जून 2018 में जारी 23 लाख के अग्रिम (एडवांस) का हिसाब प्रभारी सफाई निरीक्षण जुलुम साह ने अब तक नहीं सौपा है। सभापति गरिमा सिकारिया के इस पर सख्त रूख अपनाएं जाने पर ईओ विजय कुमार उपाध्याय ने जुलुम साह अविलम्ब भुगतान का ब्यौरा सौपने का निर्देश दिया है।

सभापति गरिमा सिकारिया ने बताया कि दैनिक दर के मानदेय पर कार्यरत कर्मियों पर जून 2018 से सरकार से रोक लगा दी गयी थी। तब विभिन्न वार्डों में कार्यरत सफाईकर्मियों के बकाये भुगतान मद में तत्कालीन ईओ डॉ विपिन कुमार ने 23 लाख का अग्रिम जुलुम साह के नाम पर जारी कर दिया था। जिसका हिसाब अब तक अनुपलब्ध है। इधर ईओ विजय कुमार उपाध्याय ने बताया कि बीते नवम्बर 2019 में मामला संज्ञान में आते ही उन्होंने एडवांस राशि का पूरा ब्यौरा सौपने का लिखित आदेश दिया था। अब तक आदेश का अनुपालन नहीं होने पर आखिरी चेतावनी जारी की गयी है। 48 घंटे में आदेश का अनुपालन नहीं होने पर सख्त कार्रवाई होगी। इधर आरोपित सफाई निरीक्षक जुलुम साह ने बताया कि तत्कालीन कार्यपालक पदाधिकारी के आदेश पर उक्त अग्रिम राशि मैंने तब के लेखपाल ललन कुमार को हस्तगत करा दिया था। तब ललन कुमार व उनके प्रतिस्थानी लिपिक साहेब अली के द्वारा सम्बंधित डेलीवेजेज कर्मियों में राशि बांटी गयी। उसका हिसाब अब भी साहेब अली के पास है। शीघ्र ही कार्यपालक पदाधिकारी को सौप दिया जायेगा।