ALL देश विदेश सम्पादकीय राजनीति अपराध खेल मनोरंजन चुनाव आध्यात्म सामान्य
बेतिया :: मदरसा बोर्ड में एनसीईआरटी पर आधारित सिलेबस नए शिक्षण सत्र से चलेगी : चेयरमैन एनसीईआरटी
December 12, 2019 • aaditya prakash srivastava • राजनीति

शहाबुद्दीन अहमद, कुशीनगर केसरी, बेतिया, बिहार। बिहार मदरसा बोर्ड ने पहली क्लास से लेकर मौलवी यानी इंटर तक का सिलेबस बदल दिया है। नया सिलेबस एनसीईआरटी पैटर्न पर आधारित है और यह नए साल से ही लागू हो जाएगी, बोर्ड ने एक नए सिलेबस पर आधारित पहली क्लास से लेकर मौलवी तक की सभी किताबों को ऑनलाइन भी कर दिया है ,बोर्ड के चेयरमैन अब्दुल कयूम अंसारी ने संवाददाता को बताया कि सभी किताबें उर्दू में है और बोर्ड की वेबसाइट डब्ल्यू डब्ल्यू डॉट बीएसईबी डॉट कॉम पर उपलब्ध है।
वर्ष 2020 में पहली से लेकर आठवीं तक की परीक्षा और २०२१ में फोकानिया और मौलवी की परीक्षा इसी एनसीईआरटी सिलेबस के आधारित पर ली जाएगी ,अभी तक मदरसा बोर्ड का अपना सिलेबस चल रहा था। मदरसा बोर्ड ने नए सिलेबस की हर क्लास की सभी पुस्तकों का एक-एक छात्र अब मोबाइल, लैपटॉप पर पढ़ सकते हैं। बोर्ड की वेबसाइट को खोलने पर सबसे दाहिने और एनसीआरटी का ऑप्शन है, इसके क्लिक करने पर क्लास वन से लेकर मौलवी तक की किताबों हैं ,हर क्लास की अलग-अलग पुस्तकों की सूची है जिस किताब को पढ़ना है उसे क्लिक करने पर वह खुल जाएगी।
मदरसा बोर्ड ने सिलेबस को बनाने में जामिया मिलिया विश्वविद्यालय, अलीगढ़ मुस्लिम विश्वविद्यालय, यूनिसेफ समेत देश के जाने-माने शिक्षाविदों की मदद ली है। शिक्षा मंत्री कृष्ण नंदन प्रसाद वर्मा व बोर्ड के चेयरमैन ने एनसीईआरटी आधारित सिलेबस का विमोचन किया, साथ ही वेबसाइट पर ऑनलाइन पुस्तक की शुरुआत की बिहार में फिलहाल किसी शिक्षण बोर्ड की पुस्तक ऑनलाइन नहीं है, शिक्षा मंत्री ने कहा कि मदरसा बोर्ड ने पुस्तकें ऑनलाइन कर बड़ा कदम उठाया है। इसे छात्रों को किताबों को पढ़ने में मदद मिलेगी।