ALL देश विदेश सम्पादकीय राजनीति अपराध खेल मनोरंजन चुनाव आध्यात्म सामान्य
बगहा(प.चं.) :: माघ पूर्णिमा के अवसर पर 70 वींं भव्य महा आरती में उमड़ा जनसैलाब
February 10, 2020 • aaditya prakash srivastava • आध्यात्म

विजय कुमार शर्मा, बगहा प.चं. बिहार। वाल्मीकिनगर में भारत नेपाल सीमा पर अवस्थित शिवाला घाट त्रिवेणी धाम नेपाल परिसर में माघी पूर्णिमा के अवसर पर 70 वीं भव्य नारायणी गंडकी महाआरती का आयोजन किया गया। स्वरांजलि सेवा संस्थान द्वारा आयोजित इस कार्यक्रम का शुभारंभ मुख्य अतिथि पूर्व कला संस्कृति मंत्री, वर्तमान लौरिया विधायक एवं स्टार कलाकार विनय बिहारी, कोटी होम आश्रम नेपाल के पीठाधीश संत गुरु वशिष्ट जी महाराज, अभिनेता डी. आनंद, विरहा गायक श्याम देव साहनी, ठूठीवारी विकास मंच के अध्यक्ष आशुतोष रौनियार, संजय कुमार सिंह, गायक एवम् समाजसेवी संगीत आनंद, हरियाणा के निर्माता शैलेंद्र नागपाल, अभिनेता विभोर शुक्ला, अभिनेता अतुल श्रीवास्तव एवं पंकज मिश्रा ने संयुक्त रूप से दीप प्रज्वलित कर किया।मुख्य अतिथि विनय बिहारी ने संबोधन के क्रम में कहा कि संगम तट पर होने वाली यह महा आरती वाल्मीकिधाम एवं त्रिवेणी धाम पर्यटन की पहचान बनती जा रही है। इसी तट पर आदि कवि महर्षि वाल्मीकि का आश्रम है। पर्यावरण संरक्षण-संवर्धन एवं प्राकृतिक धरोहरों की रक्षा के साथ.साथ हम सभी विश्व शांति का संदेश देना चाहते हैं। इससे नए कलाकारों को एक बड़ा प्लेटफार्म मिल रहा है। कोटि होम आश्रम के पीठाधीश्वर संत श्री वशिष्ठ जी महाराज ने कहा कि जातिवाद, छुआछूत एव वर्ण भेद से हटकर मानवता और भाईचारे का संदेश देती है इस महा आरती का मानवता सबसे बड़ा धर्म है। आयोजन करने वाली संस्था द्वारा हर दिन दिव्यांगों को घूम-घूम कर भोजन कराया जाता है। यही सच्ची ईश्वर भक्ति है। शेरघाटी गया से आई महिला चिकित्सक कनिका पांडे ने देवी पचरा गाकर माहौल को भक्तिमय कर दिया। श्रीमती पांडे ने कहा कि आज महिलाएं विविध क्षेत्रों में अपना नाम रोशन कर रही है।इस आयोजन के लिए श्री आनंद को अंतरराष्ट्रीय पुरस्कार से सम्मानित किया जाना चाहिए। गायक एवं समाजसेवी श्री संगीत आनंद ने माता पिता की भक्ति पर केंद्रित भजन को सरसता के साथ प्रस्तुत किया। नेपाल की गायिका आशा साहू ने हिंदी नेपाली भजनों द्वारा अपनी उपस्थिति दर्ज कराई। उत्तर प्रदेश के बिरहा गायक श्याम देव साहनी ने निर्गुण भजन गाकर लोगों को सत्य मार्ग पर चलने का संदेश दिया। इस मौके पर भोजपुरी के नामचीन कलाकार विनय बिहारीए गायक शिवचंद्र शर्माए पंकज मिश्राए समाजसेवी आशुतोष रौनियारए राजवीर फिल्म के नायक विभोर शुक्लाए अतुल श्रीवास्तवए नायिका सोनी शुक्लाए हरियाणा के निर्माता शैलेंद्र नागपालए लेखक विजय शर्माए निशांत तिवारी आदि नारायणी गंडकी सम्मान से सम्मानित किए गए। संस्थापक डी. आनंद ने मन चंगा तो कठौती में गंगा कहानी सुनाकर संत रविदास जयंती और माघी पूर्णिमा की सार्थकता को सिद्ध किया। उत्तर प्रदेश के लोकप्रिय भजन गायक अमित अंजन के सौजन्य से महाप्रसाद का इंतजाम किया गया था। पश्चिम बंगाल से आए शांतनु बाबा के भजनों पर देर तक तालियां बजती रही। वर्तमान गन्ना उद्योग मंत्री बिहार सरकार श्रीमती बीमा भारती द्वारा उपलब्ध कराए गए अंगवस्त्रम से अतिथियों का सम्मान किया गया। ढोल, शंख करताल एवम् झाल की मधुर ध्वनि के बीच नारायणी गंडकी महा आरती की गई ।कड़ाके की ठंड में भी बड़ी संख्या में भारत-नेपाल के श्रद्धालु भक्तों ने इस कार्यक्रम में भाग लिया। कार्यक्रम के अंत में संचालक श्री डी. आनंद ने कोरोना वायरस से बचने के लिए शाकाहारी बनने पर बल दिया। इस मौके पर मंच संचालन डी. आनंद ने किया जबकि धन्यवाद ज्ञापन श्री विनय बिहारी ने किया। गंगा मैया की जय, गंडकी माता की जय, त्रिवेणी धाम की जय, वाल्मीकि धाम की जय आदि नारों से कार्यक्रम स्थल गुंजायमान होता रहा। बलदेव प्रसाद द्वारा निर्देशित भोजपुरी फिल्म लव यू रानी एवं राजवीर के कलाकारों ने कार्यक्रम को भक्तिमय बना दिया।