ALL देश विदेश सम्पादकीय राजनीति अपराध खेल मनोरंजन चुनाव आध्यात्म सामान्य
बगहा(प.चं.) :: 30 विद्यालयों के 1600 छात्रों ने मेधा मूल्यांकन प्रतियोगिता सामान्य ज्ञान प्रतियोगिता परीक्षा में अनुमंडल के परीक्षा में लिया हिस्सा
December 25, 2019 • aaditya prakash srivastava • सामान्य

विजय कुमार शर्मा, कुशीनगर केसरी, बिहार, बगहा(प.चं.)। मुख्यमंत्री के जल ही जीवन हरियाली के साथ-साथ प्रधानमंत्री के स्वच्छ भारत मिशन जैसे कई संदेशों के साथ नैतिक जागरण मंच वेलफेयर ट्रस्ट के तत्वावधान में आयोजित मेधा मूल्यांकन के पाँचवें चरण का समापन हुआ।

जी हां, नैतिक जागरण मंच वेलफेयर ट्रस्ट के तत्वावधान में आज 25 दिसंबर 2019 को आयोजित होने वाले मेधा मूल्यांकन प्रतियोगिता सामान्य ज्ञान प्रतियोगिता परीक्षा में अनुमंडल के 30 विद्यालयों के 1600 छात्रों ने परीक्षा में हिस्सा लिया। ठंड के बावजूद भी कुल 1300 विद्यार्थी उपस्थित हुए, शेष 300अनुपस्थित रहे। इस परीक्षा का मुख्य उद्देश्य बिहार के मेधा को राष्ट्रीय स्तर से उठाकर अंतरराष्ट्रीय स्तर पर पहुंचाना है। आप सभी जानते है कि बिहार में मेधावीता की कमी नहीं है।नैतिक जागरण मंच लगातार इस 5 वें चरण के बिहार के मुख्यमंत्री श्री नीतीश कुमार के जल जीवन हरियाली और भारत के प्रधानमंत्री का स्वच्छ भारत मिशन के संदेश को बच्चों के पेपर के माध्यम से घर-घर पहुंचाने का पुरजोर प्रयास किया गया। पेपर में जगह-जगह पर इसके झलक दिखाई दे रहा था। बच्चों को उनके ही सीट पर नाश्ते के पैकेट देने की भी व्यवस्था की गई थी। सब कुछ सुंदर ढंग से संपन्न हुआ। मौके पर विभिन्न विद्यालयों के प्रधानाचार्य और गणमान्य अभिभावक मौजूद रहे । व्यवस्था में नैतिक जागरण मंच का के अध्यक्ष श्री अरुण कुमार सिंह, उपाध्यक्ष अरविंद कुमार सिंह, कोषाध्यक्ष नंदलाल प्रसाद ,श्री पारसनाथ जायसवाल ,समन्वयक श्री आनंद कुमार सिंह ,श्री उमाशंकर प्रसाद ,श्री हृदयानंद दुबे ,श्री श्री नारायण पाठक सचिव निप्पू कुमार पाठक, मीडिया प्रभारी श्री मिथिलेश कुमार पांडे ,श्री रघुवंश मणि पाठक, श्री चंचल गुप्ता ,श्री दीपक कुमार गुप्ता,श्री श्रवण कुमार पांडे श्री मनोज कुमार ठाकुर अनुराग कुमार मिश्र अनूप कुमार पांडेय वाजिद अली अंसारी श्री सिकन्दर जी सरीखे कार्यकर्ताओं के मेहनत के बदौलत सभी बच्चों को काफी सुविधाजनक ढंग से परीक्षा ली जा सकी। इस कार्य में बगहा के कई समाजसेवी व अधिवक्ता जैसे मनु राव श्री रघुनाथ प्रसाद ,श्री अमरेंद्र कुमार सिंह, श्री अजय मोहन गुप्ता ,श्री मधुसूदन यादव, श्री देवनिरंजन दिक्षित ,श्रीमती शशि चौधरी ,श्रीमती लक्ष्मी खत्री ,श्रीमती बबली देवी,श्रीमती मुन्नी देवी ,सुश्री रूपम आदि ने परीक्षक के रुप मे अपना योगदान दिया।मंच ने परीक्षा के लिए हर एक व्यक्ति को अंतिम रूप दिया जा सका।