ALL देश विदेश सम्पादकीय राजनीति अपराध खेल मनोरंजन चुनाव आध्यात्म सामान्य
बगहा(प.च.) :: छठव्रती ने नहाय-खाय के साथ ही दी डूबते सूर्य को अर्घ
November 2, 2019 • aaditya prakash srivastava • आध्यात्म

विजय कुमार शर्मा, कुशीनगर केसरी, बगहा प.च. बिहार। प्रखंड बगहा एक अन्तर्गत चखनी राजवाटिया के नारायणि गण्डक नदी के घाट परआज दिनाक 2 अक्टूबर दिन राबिवार को प्रथम अर्घ डूबते सूर्य को हजारोंं महिला समेत पुरुष, छठव्रतीयोंं ने अर्पित की।बताते चलेंं की हिन्दुओं के प्रसिद्ध पर्व बहुत ही धूमधाम से मनाया गया राजद के बगहा पुलिस जिला महा सचिव गोविन्द शर्मा ने बताया कि लोगों के द्वारा घाट की सफाई के साथ - साथ काफी सजावट की गई है पंचायत समिति बीडीसी इजहार सिद्दिकी ने बताया कि हर साल की भांति इस वर्ष भी छठव्रती को कोई कठिनाई न हो इस पर विशेष ध्यान दिया गया है तो वही अमिका जयसवाल ने बताया कि घाट पर हरे राम हरे राम कृष्ण कृष्ण हरे हरे अष्टयाम का 12 घंटे के लिए किया जा रहा है पूरा राजवाटिया के नारायणि गण्डक नदी से लेकर पूरा गांव भक्तिमय हो गया है। सूर्य की उपासना का महापर्व कार्तिक महीने के शुक्ल पक्ष की चतुर्थी को होता है जहां-जहां नदी एवं तालाब होती है वहां पर छठ पूजा को बड़े हर्ष के साथ मनाने के लिए श्रद्धालु गन अपने परिजन के साथ पहुंचते हैं बगहा थाना के दलबल पर पुलिस प्रशासन भी रही मौजूद सुरक्षा के किए गए थे पुख्ता इंतजाम एवं नदी के अंदर सुरक्षा घेरा भी लगाई गई थी।महिलाएं अपनी संगीत में भजनों को गाती हुई कांचे ही बांस के बहंगिया लचकत जाए एवं केलवा जे फरेला घवद से वह पर सुगा मेरडाय जिनकी मनोकामनाएं पूर्ण होती है वह लोग कोशी भी भरते हैं। विशेषकर इस साल में कुमार सरयुग पंडित ने बताया कि यह साल कोशी भरने का सिलसिला बीते साल के अपेक्षा श्रद्धालुओं में बड़ी संख्या में दिख रही है क्योंकि हम लोग हर साल की भांति इस साल भी जितना कोशी का भरने का कलश बनाए थे वह भी कम पड़ा जिस से उम्मीद लगाया जा सकता है।इस मौके पर जदयू नेता स्याम बिहारी प्रसाद ,बंटी सिंह,जोगी गोंड़,उपेन्द्र कुमार गुप्ता,दसरथ गोंड़,राजू प्रसाद, सुरेश मिश्रा, रमेश शर्मा महादेव प्रसाद,जैसे तमाम गणमान्य लोग मौजूद रहे।