ALL देश विदेश सम्पादकीय राजनीति अपराध खेल मनोरंजन चुनाव आध्यात्म सामान्य
बगहा(प.च.) :: 14 वार्ड क्रियान्वयन समितियों पर बीडीओ ने डीएम से की कार्रवाई की अनुशंसा, तत्कालीन पंचायत सचिव व उनके संवेदक पुत्र भी कार्रवाई की जद में
January 30, 2020 • aaditya prakash srivastava • राजनीति

विजय कुमार शर्मा, बिहार, बगहा(प.च.)। प्रखंड बगहा दो के मदनपुर बेलहवा पंचायत के 14 वार्ड क्रियान्वयन समितियों पर कार्यवाही हेतु प्रखंड विकास पदाधिकारी प्रणव कुमार गिरी के द्वारा जिला पदाधिकारी बेतिया को अनुशंसा की गई है । बीडीओ श्री गिरी ने बताया कि मदनपुर बेलहवा पंचायत के 16 वार्डों में से 14 वार्डों में नल जल योजना के तहत राशि की निकासी कर कार्य पूर्ण नहीं किया गया है। वार्ड नंबर 3 में नल जल योजना की प्रक्लित राशि 12 लाख 29 हजार 100 है जिसकी पूरी निकासी 23.2.2018 को ही कर लिया गया है लेकिन अभी तक सिर्फ बोरिंग व पाइप लाइन बिछाने का ही कार्य किया गया है।

ऐसी स्थिति मदनपुर ग्राम पंचायत के लगभग अधिकांश वार्डो की है। जिसमें राशि की निकासी कर ली गई है तथा कार्य मात्र 10 को ही कराया गया है। प्रखंड विकास पदाधिकारी ने बताया कि वार्ड नंबर 4 में 1064400, वार्ड नंबर 5 में 1291300 ,वार्ड नंबर 6 में 500000 ,वार्ड नंबर 7 में 500000, वार्ड नंबर 8 में 600000 ,वार्ड नंबर 9 में 1401200 ,वार्ड नंबर 10 में 600000, वार्ड नंबर 11 में 500000, वार्ड नंबर 12 में 500000 ,वार्ड नंबर 13 में 500000 ,वार्ड नंबर 14 में 600000 ,वार्ड नंबर 15 में 500000, वार्ड नंबर 16 में ₹600000 की निकासी की गई है। उन्होंने बताया कि मदनपुर बेलहवा पंचायत के वार्ड नंबर 3 से लेकर वार्ड नंबर 16 तक इन चैदह वार्डों में लगभग एक करोड़ की राशि निकासी कर ली गई है और काम के नाम पर मात्र 10ः ही कार्य धरातल पर दिख रहा है। उन्होंने बताया कि तत्कालीन पंचायत सचिव नरसिंह पड़ित व उनके संवेदक पुत्र मनोज पड़ीत सहित वार्ड क्रियान्वयन समिति पर कार्रवाई हेतु जिला पदाधिकारी को अनुशंसा की गई है। वहींं दुसरी तरफ बलुआ छत्रौल पंचायत के वार्ड नंबर 1,2,3 में कराई गई नल जल योजना में भी अनियमितता उजागर हुई है। इन वार्डो में 300 फीट बोर करने की जगह मात्र 150 फीट ही बोर कराया गया है । जिसको लेकर संबंधित वार्ड क्रियान्वयन समितियों को 300 फीट बोर कराने का निर्देश दिया गया है। अगर मानक के अनुरूप बोर नहीं कराया जाता है तो इन पर भी कार्रवाई हेतु जिला पदाधिकारी को अनुशंसा की जाएगी।